संयुक्‍त रैली : मायावती, अखिलेश, अजित ने कहा इनकी जुमलेबाजी काम नहीं आने वाली

गोरखपुर।  महागठबंधन की संयुक्त रैली में बसपा सुप्रीमों मायावती, सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव और रालोद के चौधरी अजीत सिंह ने पीएम मोदी पर निशाना साधा। मायावती ने कहा कि आज भयंकर गर्मी में इस अपार भीड़ व भीड़ के जबरदस्त जोश को देखकर लग रहा है कि अबकी चुनाव में नमो-नमो वालों की छुट्टी होने वाली है और जय भीम वाली आने वाले हैं।

चंपा देवी पार्क में आयोजित संयुक्त जनसभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि आजादी के बाद देश व अधिकांश राज्यों में सत्ता कांग्रेस पार्टी के हाथों में रही है। उनकी गलत कार्यप्रणाली के कारण उन्हें सत्ता से बाहर होना पड़ा है। वर्तमान में भाजपा भी गलत कार्यप्रणाली की वजह से केंद्र की सत्ता से जरूर बाहर चली जायेगी। इनकी नाटकबाजी व जुमलेबाजी काम नहीं आने वाली। चौकीदारी की जुमलेबाजी भी नहीं बचा पाएगी। वर्तमान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों, कमजोर तबके व मध्यम वर्ग के लोगों को जो सपना दिखाया था, उसका एक चौथाई  भी पूरा नहीं किया। पूंजीपतियों को मालामाल बनाने में ही लगे रहे। उन्हीं के लिए चौकीदारी किये। देश के किसान दुखी रहे हैं और अभी भी हैं। बीजेपी की सरकार ने आवारा पशुओ से उन्हें और बर्बाद कर दिया है। किसी वर्ग का खास विकास नहीं हो सका है। दलितों व अन्य पिछड़े वर्ग का आरक्षण कोटा पूरा नहीं हुआ है।

बसपा सुप्रीमों ने कहा कि प्रमोशन में आरक्षण भी रुका है। प्राइवेट सेक्टर में आरक्षण दिए बिना निजीकरण किया जा रहा है। मुस्लिम व अल्पसंख्यक समाज की हालत काफी दयनीय बनी है। सच्चर कमेटी की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है। बीजेपी की सरकार के कारण इनका उत्थान बंद सा हो गया है। जुल्म चरम सीमा पर पहुंच गया है। अपर कास्ट के गरीबो की हालत अच्छी नहीं लगती। नोटबंदी व जीएसटी को जल्दबाजी में लागू करने से गरीबी व बेरोजगारी बढ़ी है। छोटे व्यापारी व मध्यम वर्ग दुखी है। हमारे यहां भ्रष्टाचार से रक्षा सौदे भी अछूते नहीं हैं। देश की सीमाएं सुरक्षित नहीं हैं। बीजेपी के लोग इसे भुनाने में लगे हैं। आप लोगों को इस चुनाव में कांग्रेस व भाजपा को केंद्र की सत्ता में आने नहीं देना है। सत्ता पाने के लिए विरोधी पार्टियां साम, दाम, दंड, भेद अपनाने की कोशिश कर रही हैं। उनसे सावधान रहना है।
पूर्व सीएम ने कहा कि हवा हवाई व प्रलोभन भरे घोषणा पत्रों के बहकावे में नहीं आना है। बीजेपी ने देश मे जारी किए घोषणा पत्र में जो प्रलोभन दिए थे, सरकार बनने के बाद कांग्रेस की तरह खोखले साबित हुए हैं। इसी तरह कांग्रेस भी वादे कर रही है। गरीबों को जो छह हजार महीने देने की बात कही है, उससे गरीबी कम करने का हल नहीं निकलेगा। हमारी सरकार बनेगी तो हर गरीब परिवार को सरकारी व गैर सरकरीं क्षेत्र में नौकरी देंगे। अति गरीबों को उनके बहकावे में न आकर केंद्र की सत्‍ता में आने से रोकना है। यहां गठबंधन को ही वोट देना है। बीएसपी व सपा के लोग एक दूसरे प्रत्याशी को वोट ट्रांसफर कराएं। इससे इन क्षेत्र में भी गठबंधन सारी सीटें जीतेगी।
गठबंधन से बीजेपी घबराई है, नींद उड़ी है। उनके मुरझाए चेहरे बात रहे हैं कि मोदी व अमित शाह की सरकार जा रही है। 23 मई से उनके बुरे दिन शुरू ही रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि मोदी किसानी के हथकंडे अपना रहे हैं। कभी जाति तो कभी गरीबी कहवाला दे रहे हैं फकीरी का नाटक कर रहे हैं। जनता को बता रहे हैं कि विपक्षी उन्हें गाली दे रहे हैं, यह स्वाभाविक है कि गाली तभी दी जाती है जब वह गाली खाने का काम करता है। हमने इनसे कभी जाति नहीं पूछी बल्कि असली जाति की जानकारी जनता को दी है। ये जन्मजात पिछड़े नहीं हैं। असल ओबीसी अखिलेश यादव हैं। नरेंद्र मोदी को यह नजर नहीं आते, वह खुद फर्जी हैं इसलिए दूसरे फर्जी नजर आते हैं।

यह चुनाव देश के भविष्य का चुनाव है:अखिलेश

अपने सम्बोधन मे सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि पिछले उपचुनाव में तो केवल मायावती ने समर्थन दिया था, अब तो गठबंधन है। यह आवाज मठ तक चली गयी होगी। उनकी भाषा बदल गयी है। ये वही हैं जिन्‍होंने कहा था कि किसानों की आय दोगुनी कर देंगे। नौजवानों को नौकरी का सपना दिखाए लेकिन वह बेरोजगार होकर घर बैठ गए। जिनको गैस दिया वे दोबारा सिलेंडर नहीं भरवा पाए। समाजवादियों से पेंशन छीन ली। 102 व 108 को बर्बाद कर दिया। बच्चों की जान ऑक्‍सीजन की कमी के कारण चली गयी। जांच होगी तो सरकार दोषी होगी। एम्स के लिए समाजवादी पार्टी की सरकार ने फ्री में जमीन दी। 100 नंबर वाली पुलिस सेवा को भी खराब कर दिया। उन्‍होंने कहा कि कानून व्यवस्था के लिए बोले कि ठोक दो। पुलिस भूल गयी कि किसको ठोकना है। निर्दोषों को ठोक दिया।
पूर्व सीएम ने कहा कि चौकीदार के साथ ठोकीदार को भी हटाना है। उत्तर प्रदेश का विकास रोक दिया। संविधान से मिले अधिकार को छीन लिया। यह चुनाव देश के भविष्य का चुनाव है। इन्होंने देश को पीछे किया है। आतंकवाद के नाम पर धोखा दे रहे हैं। जो फौज के एक जवान से डर जाएं वे आतंकवाद क्या खत्म करेंगे। अभी तक के सभी चरणों मे गठबंधन आगे है। कहा कि जो बीजेपी है वो कांग्रेस है और जो कांग्रेस है वो बीजेपी है। दोनो में कोई फर्क नहीं हैं।

नरेंद्र मोदी झूठे गरीब हैं :चौधरी अजीत सिंह

जनसभा को सम्बोधित करते हुए अजीत सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी झूठे गरीब हैं और पूंजीपतियों के दलाल हैं। यहीं से आपने गठबंधन को जन्म दिया। इस बार आप यहीं से ऐसी ठोकर मारेंगे कि मोदी जाकर नागपुर गिरेंगे, योगी भी बाहर हो जाएंगे। मोदी पहले चाय वाले थे फिर पिछड़ा बन गए, अब चौकीदार बन गए। चौकीदार चोर है। सड़क पर गाय मर रही है। गाय की हाय मोदी को लगेगी। कहा कि दो करोड़ रोजगार का वादा था लेकिन अब पकौड़े की दुकान खोलनी पड़ेगी। अब जनता गलती करने वाली नहीं है। गंगा मैया आपको वापस भेजना चाहती है। मोदी को हरा दिया तो योगी भी हार जाएंगे। यह गरीबों का चौकीदार नहीं है। हमे प्रधानमंत्री चाहिए, चौकीदार नेपाल से ले आएंगे। वह कहते हैं कि 56 इंच की छाती है लेकिन दिल एक इंच का भी नहीं।

=>
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com