कारोबार

ईरान से प्रतिबंध पर भारत पर नही पड़ेगा कोई असर

नई दिल्ली। इंडियन ऑयल कार्पोरेशन ने कहा है कि ईरान से तेल आयात बंद होने का उसके कारोबार और पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति पर कोई असर नहीं होगा। कंपनी ने कहा है कि ईरान से होने वाले आयात की कमी को दूर करने के लिये अमेरिका से कच्चे तेल आयात का अनुबंध किया गया है। साथ ही सउदी अरब से अधिक तेल आयात किया जा रहा है।

वैकल्पिक स्रोतों से आपूर्ति का अनुबंध किया
इंडियन ऑयल के चेयरमैन संजीव सिंह ने कहा, ‘हमने वैकल्पिक स्रोतों से आपूर्ति का अनुबंध किया है। कोई एक देश इसकी भरपाई नहीं कर सकता, इसलिए हमने विभिन्न स्रोतों से इसकी व्यवस्था की है। हम अपने आपूर्ति स्रोतों के मामले में उचित विविधता रखते हैं। ईरान से होने वाले आयात की भरपाई के लिये हमने पूरी व्यवस्था कर ली है।’ ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध लागू होने के बाद वहां से आयात पर रोक लग गई हैं

आयात का दसवां हिस्सा ही ईरान से आता है
देश में जितने कच्चे तेल का आयात होता है उसका दसवां हिस्सा ईरान से मंगाया जाता रहा है। 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष 2018- 19 में भारत ने ईरान से कुल मिलाकर 2.40 करोड़ टन कच्चे तेल की खरीदारी की। इसमें से 90 लाख टन तेल की खरीदारी इंडियन ऑयल की रही.

loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com