पत्रकारिता के जनक हैं देवर्षि नारद

केजीएमयू के कलाम सेंटर में मना नारद जयंती समारोह

मुख वक्ताओं ने आद्य पत्रकार के रूप में देवर्षि नारद की वर्तमान पत्रकारिता में प्रासंगिकता पर बल दिया

लखनऊ। परम पिता ब्रह्मा के ऋषि पुत्र, जगत के पालनकर्ता भगवान विष्णु के अनन्य भक्त देवर्षि नारद आद्य पत्रकार माने जाते हैं, क्योंकि उन्होंने ही सृष्टि निर्माण के साथ ही सृजनात्मक और सकारात्मक पत्रकारिता की आधारशिला रखी। ये विचार रविवार को केजीएमयू के कलाम सेंटर में आयोजित नारद जयंती समारोह में सबके समक्ष प्रस्तुत की गर्इ।

इस मौके पर विशिष्ट आगंतुकों में केजीएमयू के कुलपति डॉ. एमएलबी भट्ट, डॉ. संदीप तिवारी, वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष शुक्ल, नरेंद्र भदौरिया सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहें। इस मौके पर सभी प्रमुख वक्ताओं ने आद्य पत्रकार के रूप में चिर स्थापित देवर्षि नारद की आज की वर्तमान पत्रकारिता में प्रासंगिकता पर बल दिया और साथ ही विभिन्न पक्ष भी रखे। इस दौरान आरएसएस अवध प्रांत के सहकार्यवाह प्रशांत भाटिया, विश्व संवाद केंद्र के दिवाकर और उमेश कुमार, गौरव गोयल सहित तमाम पत्रकारगण मौजूद रहें।

=>