पेट दर्द का इलाज कराने पहुंची महिला के ऑपरेशन में निकला साढ़े 11 किलो का ट्यूमर

लखनऊ। बिहार की 50 वर्षीय महिला कई महीनों ने पेट दर्द और भारीपन से पीड़ित थी। कई जगह इलाज कराने के बाद भी उसे तकलीफ से निजात नहीं मिली। इसके बाद महिला पीजीआई के जनरल हॉस्पिटल पहुंची। जहां जांच में निकले ट्यूमर का साइज देखकर डॉक्‍टर भौचक्के रह गए। महिला के अंडाशय में लगभग साढ़े 11 किलो का ट्यूमर था जिसकी वजह से उसकी जान पर बन आई थी।

ऑपरेशन के बाद महिला के अंडाशय से ट्यूमर निकाला गया। पीजीआई के जनरल हॉस्पिटल की डॉ. अंजू रानी के नेतृत्व में महिला का ऑपरेशन किया गया। टीम में डॉ. दीपा कपूर, डॉ. शालिनी अग्रवाल व डॉ. प्रियंका सिंह के अलावा एनस्थीसिया विशेषज्ञ डॉ. आरती अग्रवाल और डॉ. आकांक्षा थी।

जनरल हास्पिटल की डॉ. अंजू रानी बताती हैं कि महिला ने बिहार में काफी इलाज किया। फायदा न होने पर वह पीजीआइ पहुंची। जांच में देखा कि महिला के अंडाशय में काफी बड़ा ट्यूमर है। ट्यूमर इतना बड़ा था कि महिला के फेफड़े में दबाव पड़ रहा था। जिसकी वजह से महिला को तकलीफ थी।

बुधवार को छह डॉक्टरों की टीम ने आपरेशन कर महिला का ट्यूमर बाहर निकाला। अब महिला स्वस्थ्य है। वह पोस्ट ऑप आइसीयू में भर्ती है। महिला के दो बच्चे ऑपरेशन से हो चुके हैं। पुराने ऑपरेशन वाले हिस्से को खोला गया। उससे ट्यूमर को बाहर निकाला गया। उसके बाद बच्चेदानी और अंडाशय को बाहर निकाल दिया गया। ट्यूमर में कैंसर की कोशिकाएं नहीं मिली हैं।

=>