उत्तर प्रदेश

मां ड्रग्स देकर कराती है देह व्यापार, भाई लूटता है अस्मत- छात्रा ने एसएसपी को वीडियो देकर की शिकायत

मेरठ। घर की चाहरदीवारी में महिला खिलाड़ी के दरिंदगी का शिकार होने का मामला अभी जेहन से नहीं उतरा कि अब नाबालिग छात्रा ने परिजनों को कठघरे में खड़ा किया है। छात्रा का आरोप है कि उसकी मां ड्रग्स देकर उसे लोगों के साथ सुलाती है। बड़ा भाई भी नशे की गोलियां देकर उसके साथ दुष्कर्म करता है। आरोप है कि रुपयों के खातिर एक महिला ने अपनी नाबालिग बेटी की इज्जत का सौदा कर दिया। तीन दिन पूर्व दरिंदों के चंगुल से बचकर निकली किशोरी पार्कों में रात बिता रही है। एक अधिवक्ता की मदद से एसएसपी के पास पहुंची किशोरी अपना दर्द बताते-बताते फफक पड़ी। इस मामले में  एसएसपी  नितिन तिवारी का कहना है कि छात्रा ने अपने परिजनों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं,मां आरोपों को झूठा बता रही है। गंभीरता से मामले की जांच कराई जा रही है। जो तथ्य सामने आएंगे,उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 

जानकारी के अनुसार, मामला गंगानगर थाना क्षेत्र की एक कॉलोनी का है। 17 साल की किशोरी एक कॉलेज में 12वीं की छात्रा है। पीड़िता का आरोप है कि करीब डेढ़ साल से उसकी मां नशे की गोलियां देकर उससे देह व्यापार करा रही है। विरोध करने पर कई बार उसे पीटा। पीड़िता का आरोप है कि उसका भाई भी कई बार अस्मत लूट चुका है। शुक्रवार सुबह कुछ लोगों ने एक किशोरी को कमिश्नरी पार्क के पास देखा। उसकी आंखों में आंसू देखकर एक वरिष्ठ अधिवक्ता किशोरी के पास पहुंचे। उसकी आपबीती सुन वह किशोरी को एसएसपी ऑफिस ले गए।

एसएसपी को दिखाए वीडियो

पीड़ित किशोरी ने एसएसपी से कहा, सर! मेरी मां मुझसे धंधा कराती है। नशे की गोलियां खाने में देकर उसे बड़ी उम्र के लोगों के साथ सुलाती है। पिछले एक साल से उसके साथ ऐसा हो रहा है। पिता, भाई और कुछ रिश्तेदारों को भी जानकारी है, लेकिन कोई उसकी मदद नहीं करता। वह किसी तरह जान बचाकर घर से निकली है। किशोरी ने कुछ वीडियो भी एसएसपी को दिखाए। मामले में एसएसपी नितिन तिवारी ने महिला थाने की इंस्पेक्टर संध्या वर्मा को जांच के निर्देश दिए। साथ ही जांच पूरी होने तक किशोरी को अपनी सुपुर्दगी में रखने के भी निर्देश दिए।

शिकायत पर पिता ने दी चुप रहने की सलाह

शुक्रवार को पीड़िता एसएसपी के सामने पहुंची और वीडियो सौंपकर कार्रवाई की गुहार लगाई। गंगानगर क्षेत्र निवासी 17 वर्षीय छात्रा का कहना है कि वह 12वीं कक्षा में पढ़ती है। उसकी मां देह व्यापार करती है। करीब डेढ़ साल से मां ने उसे भी इस दलदल में धकेल रखा है। छात्रा ने बताया कि वह घर की चारदीवारी के बीच करीब डेढ़ साल से दरिंदगी का शिकार हो रही है। उसने पिता से शिकायत की तो उन्होंने भी चुप रहने का कहा। 
 
सगे भाई पर अस्मत लूटने का आरोप
अफसरों के सामने बिलखती किशोरी ने बताया कि हर रोज उसे अलग-अलग लोगों के साथ सोने के लिए मजबूर किया जाता है। उसका सगा बड़ा भाई भी उसे अपनी हवस का शिकार बना चुका है। मां और पिता से कई बार शिकायत की, लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया। छोटा भाई उसकी मदद करना चाहता है, लेकिन यह लोग उस पर भी नजर रखते हैं। पीड़िता का आरोप है कि उसे कैद करके रखा जाता है।

तीन दिन से कमिश्नरी पार्क में सो रही थी छात्रा 
छात्रा ने बताया कि वह किसी तरह परिजनों के चंगुल से छूटकर घर से भाग निकली। तीन दिन से वह कमिश्नरी पार्क में सो रही थी। शुक्रवार को हिम्मत दिखाकर वह एसएसपी कार्यालय पहुंची। मामले की गंभीरता देख कप्तान ने पीड़िता को महिला थाना भेज जांचकर कार्रवाई के निर्देश दिए।

‘प्रेमी ने लगवाए हैं झूठे आरोप’ 
गंगानगर पुलिस ने छात्रा की मां को हिरासत में ले लिया। उन्होंने बताया कि गत 28 मई को नाबालिग बेटी घर से लापता हो गई थी। परिवार ने कसेरूबक्सर निवासी अभय के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। अभय ने जेल जाने से बचने को छात्रा से झूठे आरोप लगवाए हैं। 

 
किशोरी की मां ने भी दी तहरीर
एसपी देहात अविनाश पांडेय का कहना है कि किशोरी ने जो तहरीर दी है, उसके  आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है। वहीं किशोरी की मां ने भी एक तहरीर गंगानगर थाने में दी है। मां ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी अभय नाम के युवक के साथ जाना चाहती है। पुलिस ने आरोपी अभय के खिलाफ भी केस दर्ज कर जांच शुरू की है।
 
मामले में हो सख्त कार्रवाई
किशोरी को लेकर आने वाले अधिवक्ता का कहना था कि जिस तरह की बात किशोरी बता रही है, अगर वह सच है तो ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई हो। ऐसे लोग सामाजिक रिश्ते को कलंकित कर रहे हैं।
loading...
Loading...

Related Articles