Main Sliderराष्ट्रीय

आया फैसला: कठुआ रेप कांड में पठानकोट अदालत ने 6 को दोषी ठहराया

पठानकोट: पिछले साल जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ हुए बलात्कार और उसकी हत्या के मामले में आज पठानकोट का जिला और सत्र न्यायालय फैसला सुनाने वाला है। इसी को देखते हुए अदालत के बाहर सुरक्षा बढ़ाई गई है। आरोपियों को अदालत लाया गया है। बंजारा मुस्लिम जनजाति से संबंधित 8 साल की बच्ची का पिछले साल जनवरी में अपहरण कर, सामूहिक बलात्कार कर हत्या कर दी गई थी।

आठ में से सात अभियुक्तों के खिलाफ अप्रैल 2018 में शुरू हुई सुनवाई पिछले सप्ताह 3 जून को समाप्त हुई। एक किशोर की सुनवाई अभी शुरू होनी है क्योंकि उसकी उम्र की याचिका पर जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट द्वारा सुनवाई की जानी बाकी है। चार्जशीट के अनुसार अगवा की गई 8 साल की बच्ची को कठुआ जिले के एक गांव के मंदिर में बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया। उसे चार दिन तक बेहोश रखा गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई।

हाई कोर्ट ने मामले को जम्मू-कश्मीर से बाहर भेजने का आदेश दिया था जिसके बाद जम्मू से करीब 100 किलोमीटर और कठुआ से 30 किलोमीटर दूर पठानकोट की अदालत में मामले को भेजा गया।

क्राइम ब्रांच ने इस मामले में ग्राम प्रधान सांजी राम, उसके बेटे विशाल, किशोर भतीजे और उसके दोस्त आनंद दत्ता को गिरफ्तार किया था। इस मामले में दो विशेष पुलिस अधिकारियों दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा को भी गिरफ्तार किया गया। सांजी राम से कथित तौर पर चार लाख रुपए लेने और महत्वपूर्ण सबूतों को नष्ट करने के मामले में हेड कॉन्स्टेबल तिलक राज और एसआई आनंद दत्ता को भी गिरफ्तार किया गया।

loading...
=>

Related Articles