कानून व्यवस्था और बिजली दरों में बढ़ोतरी के प्रस्ताव पर मायावती का हमला

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने सोमवार को उ.प्र. की ’खराब कानून-व्यवस्था’ और घरेलू बिजली दरों में बढ़ोतरी के प्रस्ताव पर प्रदेश की योगी सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। मायावती ने दोनों ही विषयों पर ट्वीट कर कहा कि बिगड़ी कानून-व्यवस्था के कारण जनता में त्राहि-त्राहि मची है। मायावती ने बिजली दरों में बढ़ोतरी पर सवाल किया है कि क्या यह वृद्धि ’सौभाग्य’ को ’दुर्भाग्य योजना’ में नहीं बदल देगी?
मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘‘प्रदेश में अपराध नियंत्रण व कानून-व्यवस्था की बिगड़ी स्थिति के साथ-साथ सर्वसमाज की बहन-बेटियों की जान व इज्जत-आबरू के सम्बंध में अराजकता जैसी स्थिति अति दुःखद व अत्यंत चिन्ता का विषय है। सरकारी दावों के विपरीत पूरे प्रदेश में हर प्रकार के जघन्य अपराधों की बाढ़ से जनता में त्राहि-त्राहि मची है।’’
मायावती ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि ‘‘बिजली की दरों में भारी वृद्धि की तैयारी कर प्रदेश की त्रस्त जनता व गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले (बीपीएल) परिवारों को भी तेज झटका देने की सरकारी तैयारी घोर निंदनीय है। लोकसभा चुनाव के बाद क्या भाजपा सरकार इसी रूप में प्रदेश की 20 करोड़ जनता को आघात पहुंचाएगी? क्या यह वृद्धि ’सौभाग्य’ को ’दुर्भाग्य योजना’ में नहीं बदल देगी?’’

=>