सरकारी कार्य में बाधा डालने पर 28 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

गाजियाबाद,इंदिरापुरम ज्ञान खंड-3 में शनिवार, 15 जून को धार्मिक स्थल के बाहर अवैध निर्माण हटाने के दौरान हुए हंगामे पर जीडीए अफसर ने इंदिरापुरम थाने में 3 नाजमद और 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा कराया है। इंदिरापुरम पुलिस ने सरकारी कार्य में बांधा पहुंचाने, अधिकारियों से मारपीट व हाथापाई, भूमि पर दोबारा कब्जा करने और नारेबाजी पर विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर अज्ञात लोगों की पहचान में जुटी है। पहचान के बाद इन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।जीडीए के अवर अभियंता योगेंद्र कुमार ने रविवार को इंदिरापुरम थाने में तहरीर दी। इसमें कहा गया कि कुछ लोगों ने ज्ञानखंड-3 में सरकारी भूमि पर कब्जा कर आने-जाने का रास्ता बना लिया है। सूचना मिलने पर जीडीए वीसी ने जांच कराकर कार्रवाई के लिए कहा था। आरोप है कि 15 जून को जीडीए टीम के अधिकारी अवैध निर्माण हटाने गए तो वहां राजी खां, निसार और इमरान ने 20 लोगों को इकट्ठा कर लिया। इसके बाद इन तीनों आरोपितों के इशारे पर वहां जमा लोगों ने जीडीए टीम का विरोध शुरू कर दिया इतना ही नहीं, कार्रवाई को लेकर लोग उग्र हो गए और उन्होंने अधिकारी व टीम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सरकारी कार्य में बांधा पहुंचाई। अफसरों से मारपीट और हाथापाई का प्रयास किया व क्षेत्र में धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश की। इसकी सूचना पर इंदिरापुरम, खोड़ा, साहिबाबाद, लिंक रोड, ट्रॉनिका सिटी, लोनी, सिहानी गेट, कोतवाली घंटाघर और मसूरी थाने के पुलिस फोर्स ने पहुंचकर मामला शांत करायारविवार रात जीडीए के अवर अभियंता ने मामले में तीन नामजद व 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत देकर पुलिस कार्रवाई की मांग की। मामले में एएसपी अपर्णा गौतम का कहना है कि जीडीए अधिकारी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज हुआ है विडियो फुटेज के आधार पर लोगों की पहचान की जा रही है जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा

=>