द गुरुकुल स्कूल में स्टेक होल्डर कार्यशाला से सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ

गाजियाबाद। सड़क सुरक्षा सप्ताह के शुभारंभ पर द गुरुकुल स्कूल में स्टेकहोल्डर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मारुति मोटर्स की तरफ से पूजा शर्मा ने प्रोजेक्टर के माध्यम से कार्यशाला में उपस्थित लोगों को सड़क सुरक्षा के नियमों की विस्तार से जानकारी दी। प्रोजेक्टर के माध्यम से बताया गया कि एक्सीडेंट किन परिस्थितियों में होते हैं और एक्सीडेंट होने के बाद किस प्रकार से हेलमेट और सीट बेल्ट लगे होने से गंभीर दुघर्टना से बचा जा सकता है/इसके उपरांत अवंतिका फिल्म्स के कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से रोड सेफ्टी के विभिन्न आयामों को दर्शाते हुए हुए मनमोहक प्रस्तुति पेश की गईए जिसे दर्शकों व उपस्थिति प्रमुख लोगों ने काफी सराहा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष अंजुल अग्रवाल ने कहा कि ट्रैफिक नियमों का पालन कराने में हरेक व्यक्ति सहयोग करें। ऐसे कार्य की सफलता सभी की भागेदारी से संभव है। ट्रैफिक पुलिस लोगों को चालान का भय दिखाने के बजाए इस बात पर जोर दें कि जरा सी लापरवाही से आपकी जान जा सकती है और आपके पीछे चारों लोगों की जिम्मेदारी का दायितव है। इस मौके पर जानकारी दी गई कि प्रतिवर्ष देश में एक लाख 35 हजार लोगों की सड़क हादसों में मौत हो जाती है। बल्कि इससे ज्यादा लोगों के शरीर का कोई अंग भंग हो जाते हैं/सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाने की सार्थकता तभी है सड़क हादसों में होने वाली मौतों की संख्या में कमी आ सकें। इस मौके पर स्कूल के प्रधानाचार्य गौरव बेदी ने शासन के निर्णयों से रोड सेफ्टी के संबंध में जारी किए गए निर्देशों के पालन के लिए कदम से कदम मिलाकर सहयोग देने का आश्वासन दिया।स्कूल के प्रधानाचार्य गौरव बेदी द्वारा शासन के निर्णयों से रोड सेफ्टी के संबंध में जारी किए गए निर्देशों के पालन हेतु कदम से कदम मिलाकर सहयोग देने का आश्वासन दिया गया। कार्यशाला में उप परिवहन आयुक्त संजय माथुर, संभागीय परिवहन अधिकारी अजय कुमार त्रिपाठी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रवर्तन राकेंद्र कुमार सिंह, पीएस राय, सहायक संभागीय अधिकारी प्रशासन विश्वजीत प्रताप सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक पंकज पांडे, एसपी ट्रैफिक एसएन सिंह अपनी टीम के साथ उपस्थित रहे।

=>