दो कलयुगी बेटों ने पिता को उतारा मौत के घाट

  •  मोहनलालगंज में बेटे ने डंडे से पीट-पीटकर की हत्या
  • जानकीपुरम में बेटे ने पिता को चाकू से गोदकर मार डाला

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के दो अलग-अलग थाना क्षेत्र में कलयुगी बेटों ने अपने पिता की बेरहमी से हत्या कर दी। मोहनलालगंज में एक बेटे ने बुजुर्ग पिता को डंडे से पीट-पीटकर लहूलुहान कर मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। उधर ,जानकीपुरम थाना क्षेत्र में पुत्र ने पिता को चाकू से गोदकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। पुलिस ने शवों कब्जे में लेकर को पोस्टमार्टम के लिए भेज विधिक कार्रवाई में जुटी है।
जानकारी के अनुसार, मामला मोहनलालगंज थाना क्षेत्र कोराना गांव का है। यहां बुजुर्ग किसान बाबूलाल (65) अपने परिवार के साथ रहता था। उनकी पत्नी का देहान्त कई वर्ष पूर्व हो चुका है। बाबूलाल का पुत्र रामकिशुन उर्फ कालिया है । कालिया के पांच बेटे है। मंगलवार की शाम कालिया शराब के नशे मे धुत होकर अपने पुत्र राम करन को किसी बात को लेकर पीट रहा था। पोते को पिटता देख बाबूलाल उसे बचाने पहुंचे तो कलयुगी बेटे राम किशुन उर्फ कालिया ने अपने पुत्र को छोड़ कर अपने पिता पर बांस के डंडे से ताबड़तोड़ कई वार किए । लहुलुहान बाबूलाल को उनके पोते राम करन ने अस्पताल नजदीकी निजी अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने हालत नाजुक देखते हुए बाबूलाल को ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान मौत हो गई । बाबूलाल की हत्या के मामले मे मृतक के पोते राम करन ने अपने पिता राम राम किशुन उर्फ कालिया के खिलाफ कोतवाली मे गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है । पुलिस ने पिता के हत्यारे बेटे कालिया को गिरफ्तार कर विधिक कार्रवाई में जुटी है।
चाकू से गोदकर पिता को मार डाला
जानकीपुरम थाना क्षेत्र के सेक्टर-3 में एक कलयुगी बेटे ने अपने ही पिता को मौत के घाट उतार दिया। इंस्पेक्टर जानकीपुरम ने बताया कि चंद्रिका टॉवर के पास झोपड़पट्टी में रहने वाला ताज मोहम्मद अपने परिवार संग रहता था। परिवार में दूसरी पत्नी व पांच बच्चों में समेत सबसे बड़ा बेटा शान मोहम्मद भी रहता है। साथ ही बताया जा रहा है कि घटना रात तकरीबन ढाई बजे की है। बेटे शान मोहम्मद ने अपने पिता ताज पर किसी बात को लेकर हमलावर हो गया और चाकू से ताबड़तोड़ वार किया, जिसके उसकी चीख निकल गई। चीख सुनकर 6 वर्षीय बेटी की नींद टूटी तो शान भाग निकला। घटना की जानकारी पुलिस को हुई तो मौके पर पहुंच पुलिस ने ताज को ट्रॉमा पहुंचाया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं बताया जा रहा है, हत्यारोपी बेटा व मृतक पिता दोनों ही ई-रिक्शा चलाते है। बताया जा रहा है कि आरोपी खदरा का रहने वाला ताज परिवार संग पूर्व में मुम्बई में रहता था और विगत 3 माह पूर्व ही लखनऊ आकर रह रहा था। मृतक की मासूम बच्ची ने बताया कि रात में उसे लगा कि वह सपना देख रही है, लेकिन चीख सुनकर वह उठी तो भाई शान को पिता ताज पर चाकू से हमला करते देखा। पिता ताज चीख रहा था लेकिन शान उस पर चाकू से वार किए जा रहा था। ताज ने शान का पैर पकड़कर उसे रोकने का प्रयास भी किया, लेकिन वह फरार हो गया।

=>