पुलिस ने गुमशुदा बच्ची को सकुशल बरामद कर परिजनों को सौंपा

लखनऊ। राजधानी पुलिस ने फिर एक बार सराहनीय कार्य के जरिए मानवता की  मिसाल कायम की है। बता दें कि तालकटोरा पुलिस ने गुमशुदा हुई एक बच्ची को कुछ ही घंटों में थाना ठाकुरगंज क्षेत्र के फरीदी पुर से सकुशल बरामद कर उसके परिजनों को सौंपा है।

इस पूरे मामले में गुमशुदा हुई 7 साल की बच्ची पूजा यादव के परिजनों की तहरीर पर इंस्पेक्टर तालकटोरा धनन्जय सिंह ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की और बच्ची के साथ कोई भी बड़ी दुर्घटना होती उससे पहले ही पुलिस टीम के साथ कड़ी मशक्कत के बाद कुछ ही घंटे में बच्ची को सकुशल बरामद कर उसके परिजनों को सौंप दिया। घरवालों से मिलने के बाद मासूम बच्ची के चेहरे पर मुस्कान खिल गई। जिसके बाद परिवार वालों ने तालकटोरा पुलिस और इंस्पेक्टर धनन्जय सिंह के कार्य की जमकर सराहना की।

लोकभवन के सामने से समीक्षा अधिकारी के अपहरण की सूचना से हड़कम्प
लखनऊ। 
राजधानी की पुलिस में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब एक बुजुर्ग ने पुलिस को 100 नंबर पर लोकभवन से अपने बेटे समीक्षा अधिकारी वीरेन्द्र के अपहरण की सूचना दी गई। जिसकी सूचना मिलते ही हुसैनगंज पुलिस के साथ ही आस-पास की पुलिस भी हरकत में आ गई और समीक्षा अधिकारी के मोबाइल नंबर को ट्रेस करने में भी जुट गये। वहीं मौके पर पहुंचे हजरतगंज सीओ अभय कुमार मिश्रा ने पीड़ित से बात करने के बाद देखा गया तो समीक्षा अधिकारी लोकभवन में अपने केबिन में ही मिला।

वहीं पुलिस से मिली मिली जानकारी के मुताबिक लोकभवन में पंचमतल पर तैनात समीक्षा अधिकारी वीरेन्द्र अपने पिता से लोकभवन के बाहर बात चीत कर रहे थे। तभी बाहर निकलते ही असकन श्रीवास्तव, रामू और शिवमड़ी त्रिपाठी रूपयों के लेनदेन विवाद पर बात चीत कर रहे थे तभी बात करते हुए दोनों लोग अंदर चले गये और दिखाई ना देने पर गलतफैहमी में पिता ने 100 नंबर पर अपने बेटे के अपहरण की सूचना दे दी। फिलहाल पुलिस समीक्षा अधिकारी के साथ-साथ अन्य सभी लोगों से पूछताछ करने में जुटी हुई है।

=>