Main Sliderलखनऊ

हर हाल में सुबह 9 बजे तक कार्यालय पहुंचे अफसर, नहीं तो होगी कार्रवाई- मुख्यमंत्री योगी का आदेश

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस समेत सभी विभागों के अफसरों को सुबह नौ बजे तक हर हाल में कार्यालय पहुंचने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जो भी अफसर निर्देशों का पालन नहीं करेंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ये ट्वीट मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक अकाउंट से किया गया है। 
 
आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी विकास कार्यों को समय से पूरा करने व जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए अफसरों को लगातार निर्देश दे रहे हैं। अभी हाल ही में उन्होंने अफसरों से ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा करने की भी बात कही थी। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि दागी अफसरों व कर्मचारियों को जबरन सेवा से रिटायर कर दिया जाएगा। ऐसे अफसरों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई भी प्रारम्भ कर दी गई है।
लोकसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री काफी सख्त तेवर दिखा रहे हैं। वह दागी अधिकारियों और कर्मचारियों की छटंनी के लिए पहले ही निर्देश दे चुके हैं। हाल ही में उन्होंने दागी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ाई भी दिखाई है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि दागी अधिकारियों और कर्मचारियों को जबरिया सेवा से रिटायर किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री के सख्त तेवर देखकर पुलिस महकमे के साथ ही शासन के कामकाज के मुख्यालय सचिवालय में भी दागी अधिकारियों और कर्मचारियों को चिह्नित कर लिए गया है और उनके खिलाफ कार्रवाई भी शुरू की जा रही है।

योगी आदित्यनाथ पहले ही फरमान जारी कर चुके हैं कि अफसर अपने कार्यालय में प्रतिदिन बैठेंगे। सरकार इस व्यवस्था का पालन करने में कोताही पर कार्रवाई कर सकती है। शासन और पुलिस के छोटे-बड़े अधिकारियों को अब अपने कार्यालय में रोजाना दो घंटे अनिवार्य रूप से बैठना ही पड़ेगा। कई जिलों से शिकायतें आ रही हैं कि अफसर इसका पालन नहीं कर रहे हैं। जिलों से शासन तक शिकायत पहुंची कि अफसर जनता से मिलते नहीं हैं। अफसर रोज अपने दफ्तर में सुबह 9 से 11 बजे तक बैठेंगे और जनता की समस्याओं का समाधान करेंगे। डीएम, मंडलायुक्त और पुलिस के आला अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उन्हें शिकायत मिली है कि अधिकारी अपने मुख्य कार्यालय में बैठते नहीं हैं और कैंप कार्यालय में समय गुजारते हैं। जनता शिकायतों को लेकर इधर-उधर भटकती है। इससे जनता में रोष बढ़ता है।

loading...
=>

Related Articles