अपने काम में पानी है सफलता तो रखें इन बातो का ध्यान

हमारी भारत की संस्कृति में आध्यात्म और दर्शन का बहुत महत्व माना जाता है। आध्यात्म से जहां एक ओर मन को सुख-शांति की अनुभूती होती है तो वहीं दूसरी ओर  अपने जीवन को सफल बनाने में कई प्रकार के रास्ते मिलते हैं।

पेशेवर तौर पर हर व्यक्ति को अपने क्षेत्र में सफल होने के लिए आध्यात्मिक रूप से उतना मजबूत होना चाहिए जितना पेशेवर सफलता प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण होता है।

दो बातें जिनका इंसान के व्यक्तित्व को निखाराने में बङा ही योगदान हैं-

स्वयं की ताकत पर रखें विश्वास

मनुष्य को खुद पर भरोसा रखना चाहिए न कि दूसरों पर।पर अक्सर ऐसा देखा जाता है कि मनुष्य खुद से ज्यादा दूसरों पर भरोसा रखता है। अपने अंदर की शक्तियों को बढ़ाने के लिए मनुष्य को अपने जीवन की हर छोटी-मोटी बातों पर ध्यान देने की आवश्यक्ता है। जैसे कि एक दिन में आप कितने बातें कहते हैं? फिर दूसरे दिन उन्हीं बातों को दोहराऐं, लेकिन पिछले दिन से कम शब्दों का इस्तेमाल करके बोलें।

ऐसा करने से आपने लोगों से कन शब्दों में बात करना सीख लिया है। इससे भाषा में आपकी कुशलता भी बढ़ेगी और तब आप देखेंगे कि आपने अपने भीतर स्वयं की शक्ति को  विकसित कर लिया है। और यदि आपके अंदर अपनी कोई निजी शक्ति ही नहीं होगी, तो आप दूसरों के विचारों के अनुसार ही जिएंगे।

खुद व खुद सक्षम बनें

किसी को अपना सहारा बनाने की बजाए, खुद को ताकतवर बनाऐं।

अगर आप बिना  किसी सहारे के अपने पैरों पर खङे होकर चलना सीख गए , इसका मतलब आप मजबूत हो गए।

 

loading...
=>