रंगदारी मांग रहा “ बाप जी गैंग “ का दो बदमाश बिक्रम में गिरफ़्तार

सरगना से बात करा मांग किया था डेढ़ लाख रूपये की रंगदारी

>> एसएसपी से मिला था व्यवसायी संघ ,एसएसपी ने डीएसपी के नेतृत्व में गठित किया था टीम

>> एक माह पहले रंगदारी को लेकर संतोष कुमार नामक व्यवसायी की हुई थी हत्या

>> सफेदपोश के संरक्षण में बाप जी गैंग का सरगना

रवीश कुमार मणि
पटना ( अ सं ) । राजधानी के पश्चिमी इलाके में रंगदारी को लेकर ” बाप जी गैंग ने उत्पात मचा रखा था। एसएसपी गरिमा मलिक की गठित टीम ने छापेमारी कर दो बदमाशों को गिरफ्तार किया हैं । अन्य के लिए छापेमारी जारी हैं । एक माह पहले रंगदारी को लेकर संतोष कुमार नामक व्यवसायी की हत्या गोली मारकर कर दिया गया था।  पुलिस ने सरगना गोलू को मजह 6 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर जेल भेजा हैं ।

रंगदारी के बढ़ते मामले को लेकर एसएसपी से मिला था व्यवसायी संघ

बाप जी गैंग के सरगना की गिरफ्तारी के बाद भी रंगदारी की मांग का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा था। एक सप्ताह के अंदर बिक्रम के तीन व्यवसायिओं से रंगदारी की मांग किया जा रहा था।  मोटरसाइकिल सवार दो बदमाश एक किराना व्यवसायी एवं एक श्रृंगार दुकानदार से डेढ़ लाख रूपये रंगदारी की मांग को लेकर मोबाइल पर गोलू कुमार से बात कराया और टाइम देकर चला गया ।  असुरक्षा को लेकर व्यवसायी संघ एसएसपी गरिमा मलिक से मिलकर दोनों बदमाशों के पहचान के बारे में बताया और फेसबुक से निकालकर तस्वीर दिया ।

एसएसपी ने डीएसपी के नेतृत्व में गठित की टीम

व्यवसायी संघ के शिकायत पर एसएसपी गरिमा मलिक ने पालीगंज डीएसपी मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में टीम गठित की। इसमें बिक्रम, दुल्हिनबाजार, रानीतलाब के एसएचओ को शामिल किया गया । गठित टीम की कार्रवाई पर सीटी एसपी (पश्चिमी ) अभिनव कुमार निगरानी रखें हुये थे।

गिरफ्तार किया गया दो बदमाश

डीएसपी मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में पुलिस टीम ने बीते रात दादोपुर, मोरियावां, सिकंदरपुर आदी गांवों एवं ठिकाने पर छापेमारी कर दो बदमाशों को गिरफ्तार किया हैं । गिरफ्तार दोनों बदमाश बाप जी गैंग के हैं  ,पहचान हो गयी हैं । पुलिस अन्य साथियों के गिरफ्तारी को लेकर पूछताछ करने में जुटी हैं ।

पर्दे के पीछे सफेदपोश, कुख्यात अपराधी कर रहे अपडेट

सुत्रों की मानें तो बाप जी गैंग को संरक्षण देने में एक सफेदपोश, पर्दे के पीछे से हैं और पुरे गिरोह को नौबतपुर के एक बड़े कुख्यात अपराधी अपडेट कर रहा हैं । गैंग में अधिकांश ,टीनेज्जर लड़के हैं । जो महज स्मार्टफोन और ब्रांडेड कपड़े के लिए घटनाओं को अंजाम देने के उतारू रहते और शांति भंग करना चाह रहे हैं ।हालाँकि पुलिस पुरे सक्रियता से जुटी हैं और दावा हैं की सारे व्यवसायी सुरक्षित है।
=>