अपराधियों से लोहा लेते सिपाही प्रभाकर हो गया शहीद लेकिन एक भी कैदी को भागने नहीं दिया

 पुलिस ने मिराज नामक अपराधी को हथियार संग किया गिरफ्तार 

>> गोलीबारी की घटना कर कुख्यात अपराधी को भगाने की थीं योजना

>> एसएसपी गरिमा मलिक ,सीटी एसपी अभिनव कुमार ,एएसपी दानापुर अशोक मिश्रा घटना स्थल पर पहुंचे 

>> एसआईटी गठित कर दी गयी है जल्द घटना में शामिल और अपराधी गिरफ़्तार होंगे – डीआईजी

>> एसएसपी ने लापरवाही के आरोप में बीते दो दिन पहले एक पुलिस पदाधिकारी एवं चार सिपाही को किया था निलंबित

पटना ( अ सं ) ।सिपाही प्रभाकर कुमार ने अपराधियों से लोहा लेते हुये अपने जान को कुर्बान कर दिया लेकिन एक भी कैदियों को भागने नहीं दिया । वहीं पुलिस की सक्रियता से घटना में शामिल एक अपराधी को पुलिस ने हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया हैं ।जिसका नाम मिराज बताया जाता हैं ।डीआईजी राजेश कुमार ने कैदी भागने की घटना से इंकार किया हैं ।
     बुधवार को दानापुर कोर्ट से पेशी कराकर 5 कैदियों को एक साथ हाजत में बंद करने लाया जा रहा था की पहले से घात लगाएं बैठे अपराधियों ने पुलिस को टारगेट कर लगातार 5-6 गोलियां चलाई । इसमें एक पुलिस को गोली लग गयी ।इलाज के दौरान सिपाही प्रभाकर कुमार की मौत हो गयी ।इसके बाद पेशी से लौट रहे पांचों कैदी भागने लगे। पुलिस की सक्रियता से सभी कैदी पकड़ लिये गये ।  पुलिस ने एक बदमाश को हथियार के साथ पकड़ लिया हैं ।जिसका नाम मिराज बताया जाता हैं ।
     कोर्ट में गोलीबारी की घटना के बाद पुरी तरह से दहशत फैल गयी हैं । वकीलों ने सुरक्षा -व्यवस्था पर सवाल खड़ा किया हैं ।  पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हैं ।अभी कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं । तीन दिन पहले जटहा भी भागने का प्रयास किया था जो पकड़ा गया । इस मामले में लापरवाही पाने पर एक पुलिस पदाधिकारी सहित 5 पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया था।
=>