Wednesday, November 25, 2020 at 8:30 AM

नम आंखों से सभी ने दी रेसलर रेशम सिंह को अंतिम विदाई

नम आंखों से सभी ने दी रेसलर रेशम सिंह को अंतिम विदाई
कछौना,हरदोई।अंतरराष्ट्रीय गोल्ड मेडल से सम्मानित रेसलर रेशम सिंह का रविवार को लखनऊ के सरफराजगंज में संदिग्ध अवस्था में भाजपा नेत्री रुखसाना नकली के घर पर पंखे में लटकता शव मिला था। इस घटना से हड़कंप मच गया। भाजपा नेत्री की सूचना पर परिजन मौके पर पहुंच गए। ठाकुरगंज पुलिस ने परिजनों के सामने शव को उतारा और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। घर की छानबीन की गई। परिजनों ने रुखसाना नकवी व उसके साथियों पर हत्या की आशंका जताई है। पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है। पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस ने शव पुलिस को सौंप दिया। परिजन रेशम के शव को लेकर अपने घर मूल आवास ग्राम कुकुही रविवार की देर शाम पहुंचे। परिवार पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा। परिजनों दोस्तों का रो-रोकर बुरा हाल था, उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा था कि उनके बीच से ऐसा जिंदा दिल इंसान इतनी जल्दी चला जाएगा। वह लोगों के सहयोग के लिए सदैव तत्पर रहता था, वह युवाओं को सदैव आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता था, उसके अच्छे परीक्षण से एक दर्जन युवा सेना में भर्ती हो गए थे। वह कुछ होने के युवाओं के लिए कुछ करना चाहता था इसलिए उसने तत्कालीन सांसद, जिलाधिकारी पुलकित खरे, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व खेल मंत्री चेतन चौहान से मिलकर अपने क्षेत्र में स्टेडियम बनाने की पुरजोर कोशिश की थी। लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था। सोमवार को उसके गांव में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस गमगीन मौके पर हर एक आंख नम थी।इस अवसर पर कस्बे के व्यापारी गण, व्यापार मंडल पदाधिकारी धीरेंद्र गुप्ता, अनु पांडे, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि निर्भय राजवंशी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य कौशल किशोर, सभासद विनीत लाला, बुद्धा सिंह, भाजपा पदाधिकारी महामंत्री नवीन पटेल, किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष कबीर पहलवान, गोपाल अग्रवाल, दीपक श्रीवास्तव और बाबा सहित सैकड़ों की संख्या में युवा साथियों ने नम आंखों से उस प्रतिभाशाली रेसलर को श्रद्धांजलि दी। हर कोई अपने बीच एक होनहार प्रतिभा के इस तरह चले जाने से दुखी था।
loading...
Loading...