Wednesday, November 25, 2020 at 7:52 AM

हरदोई नगरपालिका जुटी है शहर को नरक बनाने में 

हरदोई नगरपालिका जुटी है  शहर को नरक बनाने में
भरी बरसात में डाला नालों का कीचड़ सड़क पर
सावन में मन्दिर जाने वाली रास्ता की बंद
चार दिनों से मोहल्ल्वासी हैं परेशान
हरदोई -बजबजाती नालियां,खुदी पड़ी सड़के , गलियों और सड़कों पर घुटनों तक भरा पानी,नलों में आता काला और गंदा पानी,मुहल्लों में आवारा घूमते सुअर,मवेशियों के गोबर ,जगह जगह जल भराव..जी हां यही है हरदोई की शहर की स्थिति जहांनगरपालिका ने शहर को साफ सुथरा रखना तो दूर बल्कि उसे नरक से भी बदतर बना रखा है। जिसका ताजा उदहारण सिनेमा रोड से बंशी नगर जाने वाले रास्ते पर चार  दिन पहले नाले का कीचड उठा कर डाल दिया है। जिसको उठवाने के की सुध अभी तक जिम्मेदारों को नहीं सूझी है।बरसात से पहले कराई जाने वाली सफाई व्यवस्था देर से शुरू हुई।जिसका प्रशासन चुनाव के कारण टेंडर में देरी होने का रोना रो रही है। भरी बरसात में सफाई के नाम पर नालों का कीचड़ फैलाया जा रहा है।शहर की सफाई व्यवस्था तो राम भरोसे चल ही रही है।शहर के व्यस्ततम रोड सिनेमा रोड से निकलने वाले गंदे नाले का लगातार हो रही बरसात से पूरे मोहल्ले में कीचड़ फैला हुआ है व कीचड़ से उठने वाली दुर्गन्ध से राहगीरों व मुहल्लेवासियों का सांस लेना दूभर हो रहा है । लोग नगरपालिका को जम के कोस रहे हैं कि पूरी गर्मी भर जिम्मेदार आंखे बंद किये बैठे रहे और जब नालों का पानी बरसात में सड़कों पर भरने लगा ,तब पालिका प्रशासन को साफ सफाई की सुध आई। किसी जिम्मेदार ने यह नहीं सोचा कि भरी बरसात में नालों की सफाई कराने से हर तरफ गंदगी ही फैलेगी,न कि सफाई होगी जो की साफ़ तौर पर नगरपालिका अध्यक्ष व प्रशासन की अर्कमण्यता को दर्शाता है जिसका फल जनता को भोगना पड रहा है।हाइटेक युग में भी सफाई की पुरातन व्यवस्था चल रही है।जहाँ आज दुनिया का हर काम हाइटेक हो रहा है और शहरों की हर व्यवस्था को हाइटेक बनाया जा रहा है वहीं हरदोई शहर में नाले और नालियां साफ़ करने का सैकड़ों साल पुराना वही पुरातन तरीका चल रहा है, जिसमें नाले और नालियों का कीचड निकाल कर डाल दिया जाता है और हफ़्तों बाद सूखने पर उसे उठा कर फेंक दिया जाता है। जिस बीच नालों की सडांध से आस पास की जनता दुखी रहती है आज तमाम सारी मशीने आ गईं हैं जिनसे गीला कीचड भी तुरंत हटाया जा सकता है। लेकिन पालिका प्रशासन को इस की सुध नही है।अपर जिलाधिकारी संजय सिंह का कहना है कि चुनाव के कारण सफाई का टेंडर देरी से हो पाया। फिर भी सफाई की जा रही है जहां कुछ कमी है उसे दूर कर दिया जाएगा।
loading...
Loading...