भीषण दंगे के साये में पश्चिम बंगाल, बौखलाई ममता ने बीजेपी पर लगाया आरोप 

नई दिल्ली। एक हिन्दू लड़के की फेसबुक पोस्ट के बाद पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही है। अब ये हिंसा शहरी और ग्रामीण इलाकों से होते हुए पूरे पश्चिम बंगाल को अपने साये में ले रही है।

इसी के साथ पुलिस ने वर्तमान समय में बशीरहाट जाने से पार्टी के नेताओं पर रोक लगा दी है। जिसके बावजूद रुपा गांगुली की अगुवाई में जा रहे बीजेपी के राज्य स्तरीय डेलिगेशन को पुलिस ने माइकल नगर में हिरासत में ले लिया। साथ ही कांग्रेस के नेताओं को भी हिरासत में लिया गया।

बता दें कि बशीरहाट में गुरुवार को हिंसा उस समय और भड़क गयी जब तृणमूल विधायक दिपेंदू बिसवास के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया। जिसके बाद भीड़ ने बिसवास के घर पर हमला किया है। जिसके बाद विधायक दिपेंदु को इलाके को छोड़ने का आदेश दिया है। दिपेंदु के हस्तक्षेप से पार्टी नाराज है।

  खबरों की मानें तो इन लोगों पर हिंसा भड़काने का काम किया था। जिसके कारण इन लोगों को हिरासत में लिया गया। जिसके बाद उनके समुदाय के लोग भड़क गए और पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने लगे। जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने आगजनी और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

क्या है मामला

दरअसल 3 जुलाई को बशीरहाट में तब हिंसा भड़की जब एक नाबालिक लड़के ने फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट की थी। जबकि पुलिस हिरासत में लड़के ने कहा कि उसने ऐसा कोई पोस्ट नहीं किया। बंगाल हिंसा में अब तक एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com