जानिए, कब और कहां खेला जाएगा आईसीसी वर्ल्ड कप 2023

लंदन: इंग्लैंड के विश्व चैम्पियन बनने के एक महीने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (ICC) ने सोमवार को पुरुष क्रिकेट विश्व कप लीग- 2 लॉन्च की, जो 2023 विश्व कप की क्वॉलिफिकेशन प्रक्रिया का हिस्सा होगी। लीग- 2 में सात टीमें नामीबिया, नेपाल, ओमान, पापुआ न्यू गिनीया, स्काटलैंड, यूएई और अमेरिका शामिल होंगी। ये टीमें 21 त्रिकोणीय सीरीज में 126 वनडे मैच खेलेंगी। सभी सात टीमें अगस्त 2019 से जनवरी 2022 तक ढाई साल में 36-36 वनडे खेलेंगी। आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 भारत में खेला जाएगा।

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया। इंग्लैंड ने 14 जुलाई 2019 को लॉर्डस में सुपर ओवर तक खिंचे मैच में न्यूजीलैंड को हराकर पहली बार विश्व कप जीता। 2019 का विश्वकप इंग्लैंड में खेला गया था, अब चार साल बाद 2023 में एक बार फिर से आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप का आयोजन किया जाएगा।

भारत में खेला जाएगा अगला वर्ल्ड कप
आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 भारत में 9 फरवरी से 26 मार्च तक खेला जाएगा। यह 13वां आईसीसी वनडे क्रिकेट विश्व कप होगा। इंग्लैंड पहले ही 1975, 1979, 1983, 1999 और 2019 में विश्व कप का आयोजन कर चुका है। इंग्लैंड अकेला ऐसा देश है, जिसने 1975,1979, 1983, 1999 में आयरलैंड, नीदरलैंड, स्काटलैंड और वेल्स के साथ टूर्नामेंट की सह मेजबानी की।

भारत ने अबतक दो बार जीता है वर्ल्ड कप
1987 का विश्व कप पहला ऐसा मौका था, जो इंग्लैंड से दूर भारत और पाकिस्तान में आयोजित किया गया। इस उप महाद्वीप में 1996 और 2011 में भी विश्व कप का आयोजन हुआ। 2011 में भारत ने महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में 1983 के बाद दूसरा आईसीसी वनडे क्रिकेट विश्व कप जीता था। हालांकि, पाकिस्तान को सह-मेजबान होने का दर्जा अनिश्चित सुरक्षा के चलते खोना पड़ा।

इस लीग में 21 ट्राई सीरीज, 126 वनडे मैच
लीग के तहत 21 त्रिकोणिय सीरीज में 126 वनडे मैच खेले जाएंगे। हर टीम ढाई साल के बीच यानी अगस्त-2019 से लेकर जनवरी-2022 तक 36 वनडे मैच खेलेगी। 21 त्रिकोणीय सीरीज के बाद शीर्ष-3 टीम विश्व कप क्वॉलिफायर का हिस्सा होंगी। नीचे की चार टीमों को विश्व कप क्वॉलिफायर प्ले ऑफ-2022 में खेलना होगा। यहां चैलेंजर लीग-ए और बी की विजेता टीमें भी खेलेंगी।

प्लेऑफ की शीर्ष-2 टीमें 2023 विश्व कप में खेलेंगी
प्लेऑफ की शीर्ष-2 टीमों की विश्व कप में जाने की उम्मीदें जिंदा होंगी। इसके लिए उन्हें 2022 में होने वाले विश्व कप क्वॉलिफायर की बाधा को पार करना होगा।

=>