बिहार

नवविवाहिता की अश्लील फ़ोटो वायरल मामले में दो गिरफ़्तार , ख़ुदकुशी नहीं – एसपी

 मरने के बाद दूसरी बहन को भी कर रहा था अश्लील मैसेज

>> ऑटो पर जाने के दौरान गिर गया था मोबाइल ,ऑटो चालक निकला बदमाश

>> बिहार महिला आयोग ने शिकायत सुन नहीं किया कार्रवाई

>> मामला प्रकाश में आने के बाद एसएसपी गरिमा मलिक ने जांच का दिया था आदेश

>> डीएसपी के आदेश पर बीते 8 अगस्त को बिक्रम थाने में हुई थी एफआईआर

पटना ( अ सं ) । बदमाशों द्वारा नवविवाहिता की अश्लील फोटो वायरल कर तंग -परेशान किया जा रहा था। बाद में बदमाशों ने दूसरी बहन को भी अश्लील मैसेज भेज परेशान कर दिया । एसएसपी ने मामले को गंभीरता से लिए और त्वरित कार्रवाई का निर्देश दिया । पुलिस ने मामले को दो बदमाशों को बीते सोमवार की रात गिरफ्तार कर लिया ।
      बिक्रम की रहने वाली रानी चटर्जी ( काल्पनिक ) की शादी कुछ माह पहले नौबतपुर में हुई थी। पेट में दो माह का गर्व भी था। मेडिकल चेकअप के लिए ऑटो से नौबतपुर जा रही थी की रानी चटर्जी की मोबाइल ऑटो में ही गिर गयी । कुछ दिनों बाद रानी चटर्जी का फेक फेसबुक ,वाटसअप आदी बनाकर इसका अश्लील फोटो वायरल किया जाने लगा और नवविवाहिता को अश्लील मैसेज भेजकर डराने-धमकाने लगा और शादी करने का दबाव दिये जाना लगा। पीडि़त युवती बार-बार कहती रही की मैं शादीशुदा हूं ,ऐसा नहीं हो सकता लेकिन बदमाश एक नहीं मानें ।  एक-एक कर तीन लड़के घृणीत काम करने लगे । बाद में नवविवाहिता की बहन को भी गलत मैसेज करने लगे ।
    बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर पीडि़त महिला आयोग गयी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई और बदमाशों का सिलसिला बढ़ता गया । इसके बाद पीडि़त लड़की डीएसपी पालीगंज मनोज पांडे से मिली । डीएसपी ने अविलंब एफआईआर करने का निर्देश बिक्रम थानाध्यक्ष को दिया ।  तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी । इसमें ऑटो चालक रौशन कुमार ( सरासत)  शामिल हैं ।  बीते 8 अगस्त को पीडि़त नवविवाहिता रानी चटर्जी की लाश सुबह कमरे में मिली ।
   गमों का पहाड़ घर पर टूट पड़ा ,बदमाशों ने दूसरी बहन को गलत मैसेज भेजना शुरू कर दिया । एसएसपी गरिमा मलिक के पास जब सूचना मिली तो मामले को गंभीरता से लिया और कार्रवाई का निर्देश दिया । पुलिस ने देर रात ऑटो चालक रौशन कुमार सहित 2 नामजद को गिरफ्तार कर लिया ,गोलू के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी हैं ।
इधर मंगलवार को सीटी एसपी अभिनव कुमार एवं डीएसपी मनोज कुमार पांडे  बिक्रम के सरवाभदसारा गांव पहुंचे और मामले को से जांच किया ।मृतक के परिजनों ने बताया की वायरल फोटो से परेशान थी लेकिन खुदकुशी नहीं की। पेट में दो माह का बच्चा था और दांत लगने की बीमारी होती थी।  सीटी एसपी अभिनव कुमार ने बताया की खुदकुशी का मामला सामने नहीं आया हैं ।वायरल फोटो मामले में दो मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया हैं ।
loading...
=>

Related Articles