Main Sliderअंतरराष्ट्रीय

अमेरिका से भगाये जाएगें 7000 भारतीय, ट्रंप ने ऐम्नेस्टी कार्यक्रम को किया रद्द

नई दिल्ली। राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने मंगलवार को ओबामा प्रशासन के उस ऐम्नेस्टी कार्यक्रम को रद्द कर दिया जिसके तहत अवैध तौर पर अमेरिका आये प्रवासियों को रोजगार के लिये वर्क परमिट दिया गया था। इससे 800,000 कामगारों पर असर पड़ेगा जिनके पास सही दस्तावेज नहीं हैं। इनमें 7000 से ज्यादा अमेरिकी भारतीय शामिल हैं।

अमेरिकी अटॉर्नी जनरल जेफ सेशंस ने कहा, ‘मैं आज यहां यह घोषणा करता हूं कि डिफर्ड ऐक्शन फॉर चिल्ड्रन अराइवल (DACA) नामक कार्यक्रम जो ओबामा प्रशासन में प्रभाव में आया था, उसे रद्द किया जाता है।’ बता दें कि DACA के तहत बिना उचित दस्तावेज के बचपन में देश में आए प्रवासियों को वापस भेजने से बचाने का प्रावधान किया गया था।

 

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘देश को यह सीमा तय करनी होगी कि हम हर साल कितने प्रवासियों को आने की इजाजत दे सकते हैं। हम हर उस शख्स को यहां नहीं आने दे सकते जो यहां आने की इच्छा रखता है। यह सीधी और साधारण सी बात है।’ उन्होंने कहा कि यह ऐम्नेस्टी कार्यक्रम असंवैधानिक था और हजारों अमेरिकियों की नौकरी छीन रहा था।

 

बता दें कि कई दिनों से ट्रंप प्रशासन की ओर से इस घोषणा की अपेक्षा की जा रही थी। इसके बाद देश भर में इसके खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गये। ट्रंप के फैसले के खिलाफ वाइट हाउस के बाहर सैकडों प्रदर्शनकारी एकत्रित हुए थे, लेकिन इन प्रदर्शनों से बेपरवाह ट्रंप प्रशासन ने आखिरकार इसे खत्म करने का ऐलान कर ही दिया।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com