विधायक अनंत सिंह पर लगा यूएपीए , जेल जाना तय , आइओ बनी लिपि सिंह

अग्रिम जमानत का नहीं है प्रावधान ,प्रथम दृष्टा में आरोप माना जाता हैं सही

>> गिरफ्तारी के बाद पुलिस आरोप-पत्र करेंगी गठित ,ट्रायल बाद सीधे निर्णय

>> विधायक अनंत सिंह के घर से मिला है प्रतिबंधित हथियार एके 47 व हैंड ग्रेनेट

रवीश कुमार मणि
पटना ( अ सं ) ।बाढ़ के बाहुबली और छोटे सरकार के नाम से विख्यात ,मोकामा विधायक अनंत सिंह के अंत का समय आ चुका हैं । यह मेरा अपना मानना नहीं बल्कि अनंत सिंह के घर से बरामद प्रतिबंधित हथियार एके 47 व हैंड ग्रेनेट के मामले में दर्ज एफआईआर में दर्ज धारा यूएपीए लगने के बाद सही साबित होते दिख रही हैं । यूएपीए में दर्ज एफआईआर में अग्रिम जमानत का प्रावधान नहीं हैं ,और न ही नियमित जमानत का प्रावधान हैं । यह धारा लगते ही प्रथम दृष्टा में आरोप सही माना जाता हैं । इस तरह मोकामा के विधायक अनंत सिंह की गिरफ्तारी तय मानी जा रही हैं और उन्हें जेल जाना होगा । यूएपीए की धारा में घिरे अनंत सिंह के मामले में अनुसंधानकर्ता एएसपी लिपि सिंह को बनाया गया हैं । क़ानून अनुसार यूएपीए की धारा में डीएसपी स्तर के पदाधिकारी अनुसंधानकर्ता बनते है । एफआईआर  पर गौर करें तो विधायक अनंत सिंह पर आर्म्स तस्करी का भी आरोप हैं।
विधायक अनंत सिंह का आरोप है कि उन्हें हथियार रखकर फंसाया जा रहा हैं । वहीं पुलिस का कहना हैं की नियुक्त दंडाधिकारी के मौजूदगी में गठित पुलिस टीम ने कार्रवाई की हैं । पुरी कार्रवाई की वीडियो रिकॉर्डिंग हैं । पुलिस निष्पक्ष रूप से काम कर रही हैं और विधायक के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं । सुत्रों की मानें तो अनंत सिंह की गिरफ्तारी जल्द हो सकती हैं और इसके लिए पुलिस टीम गठित हो गयी हैं । मालूम हो की विधायक अनंत सिंह के ऊपर चार दर्जन मामले दर्ज हैं ।इसमें कई संगीन आरोप हैं ।  जहां तक विधायक अनंत सिंह के वायरल ऑडियो क्लिप की नमुना जांच की मानें तो आवाज अनंत सिंह का ही मिला हैं और पुलिस मुख्यालय ने सरकार को बता भी दिया हैं ।वायरल ऑडियो में हथियारों का बड़े तौर पर चर्चा की गयी है ।
=>