लड़की के साथ सेक्स करने के लिए इस लड़की ने किया ब्वॉयफ्रेंड का खून, देखे वीडियो

मुंबई। इस साल का सबसे विवादित म्यूज़िक वीडियो रिलीज़ हो गया है जिसमें दो लड़कियों के बीच समलैंगिक प्यार को दर्शाते हुए गाने का फिल्मांकन किया गया है। रिश्तों के एहसास की ऐसी कहानी जिसके आगे हर रिश्ते की सीमा ही खत्म हो जाती है। डॉलीवुड के इतिहास में पहली बार प्रसिद्द कंपनी मोक्ष म्यूज़िक ला रहा है एक क्रांति। इस क्रांति का नाम है ‘यारा वे।’ शारीरिक रिश्तों का अजीब सा ताना-बाना है मोक्ष म्युज़िक का न्यू विडियो एल्बम ‘यारा वे।’

 

समलैंगिकता एक ऐसा विषय है जिसके बारे में सब जानना तो चाहते हैं लेकिन बात करते समय लोगों के मुंह और दिमाग बेसुध हो जाते हैं।’यारा वे’ में आपको मिलेगा आपके पसंद का भरपूर मनोरंजन। इस मुद्दे को समलैंगिकता को ऑडियंस के सामने लाए हैं हमेशा ही कुछ अलग करने वाले संगीतकार राज महाजन। इस बारे में प्रसिद्ध संगीतकार राज महाजन कहते हैं कि लोग इस पर चस्का लेकर बात तो करना चाहते हैं लेकिन जब कुछ करने का समय आता है तो पीछे हट जाते हैं। मैं हमेशा से ही कुछ भिन्न करता हूँ, इसलिए इस बार आपके लिए लाया हूँ एक ऐसी प्यार की कहानी जिसमें एहसास है, प्यार है, तड़प है, कशिश है लेकिन एक लड़की की दूसरी लड़की के लिए। इसकेसाथ-साथ हम इसके ज़रिये एक सन्देश देना चाहते हैं कि प्यार रंग, उम्र, लिंग, जगह, हैसियत नहीं देखता। प्यार तो प्यार है हो जाता है, समलिंगी होना कोई पाप नहीं। मानव का अपना नज़रिया है रिश्तों को देखने का। उम्मीद करता हूँ आपको यह विडियो पसंद आएगा।

भविष्य में संस्थाओं के साथ जुड़कर इस मुद्दे पर और भी काम करना चाहूँगा। हमने म्यूज़िक वीडियो के सीक्वल की भी तैयारी कर ली है। बाद में पूरी मूवी बनाने का भी प्लान है।”

 

लेस्बियन प्रेम को दर्शाते ‘यारा वे’ में ज़बरदस्त एक्टिंग की है मेघा वर्मा, अजिता झा और करण धमीजा ने। यहाँ यह कहना गलत नहीं होगा
की इसमें काम करने वाले सभी कलाकारों ने गज़ब का हौंसला दिखाया है। “यारा वे’ का ऑडियो पहले ही मार्किट में अपनी जगह बना चुका है लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है कि वीडियो के ज़रिये कुछ भिन्न दिखाने की कोशिश की गयी है।

मायानगरी में इस मुद्दे समलैंगिकता को कई डायरेक्टर्स अपने कैमरे में उतार चुके हैं। लेकिन दिल्ली के डॉलीवुड में ऐसा पहली बार होने जा रहा है। इसे करने वाला है ‘मोक्ष म्युज़िक’। हम उस समाज में रहते हैं जहाँ सिर्फ एक ही तरह के रिलेशन को जाना जाता है – लड़के और लड़की का। लेकिन इसके आगे भी रिश्ते होते हैं जो इसी सोसाइटी में बनते हैं, जिन्हें स्वीकार तो नहीं किया जाता लेकिन इनके बारे
में बातें हर घर में होती है, समलैंगिकता भी एक ऐसा ही विषय है।

=>