उ.प्र. : 21 को प्रदेश भर में वैट वृद्धि का विरोध करेगी सीपीआई(एम)

लखनऊ। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने कहा है कि उ.प्र. सरकार द्वारा अचानक वैट में वृद्धि कर पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में वृद्धि कर दी है। एक तरफ प्रदेश की जनता पहले से ही महंगाई से पीड़ित है। इस प्रकार की वृद्धि का प्रभाव महंगाई को और बढ़ाने वाला होगा। यह घोर जनविरोधी कदम है। पार्टी के राज्य सचिव मण्डल ने मूल्यवृद्धि का विरोध करते हुए तत्काल इसे वापस लेने की मांग की है। राज्य सचिव मण्डल की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि प्रदेश भर में पार्टी की सभी इकाईयां इस मूल्यवृद्धि के खिलाफ 21 अगस्त को कार्यवाही कर विरोध दर्ज करायेंगी।
प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर चिंता व्यक्त करते हुए सीपीआई-एम के राज्य सचिव डा. हीरालाल ने कहा है कि इलाहाबाद में 12 घंटे के अंदर 6 हत्यायें होना बताता है कि अपराधी योगी राज में कितने बेखौफ हो गये हैं। इसी प्रकार तीन दिन पहले लखनऊ में इंदिरानगर जैसे व्यस्त इलाके में गाड़ी द्वारा तीन स्कूटर सवालों को कुचलने की घटना हुई जिसमें दो लोगों की मृत्यु हो गयी। यह हत्या किसी विवाद को लेकर थी जिसकी शिकायत पुलिस को की जा चुकी थी फिर भी पुलिस ने उदासीनता दिखाई। उन्होंने मांग की है कि योगी सरकार बिगड़ती कानून व्यवस्था की जवाबदेही तय करते हुए तत्काल अपराधों को रोकने के लिए ठोस कदम उठाये।

=>