सतगुरु नानक प्रगटिया, मिट्टी धुंध जग चानन होआ

फतेहपुर। आगामी 12 नवम्बर को जगत गुरु गुरुनानक देव जी का 550वां प्रकाश उत्सव (जन्म दिवस) पूरे संसार में बड़ी श्रृद्धा एवं धूमधाम से मनाया जाएगा। इसी दिवस को समर्पित एक अंतर्राष्ट्रीय नगर कीर्तन के रूप में शोभा यात्रा गुरुनानक देव जी के जन्म स्थान ननकाना साहिब (पाकिस्तान) से सड़क द्वारा देश के 17 राज्यो से होता हुआ गुरुनानक देव जी का संदेश कीरत करो, नाम जपो ते वंड छको, देते हुए वापस ननकाना साहिब पहुंचेगा। फतेहपुर वासियों का परम सौभाग्य है कि यह शोभा यात्रा आज कानपुर से फतेहपुर होते हुए प्रयागराज की और प्रस्थान करेगी।
फतेहपुरवासी एवम् रायबरेली की सिक्ख संगत इस शोभा यात्रा के स्वागत, दर्शन एवं जलपान व्यवस्था में मिलजुल कर सुबह से लगे हुए हैं। सभी बड़े उत्साह के साथ ही यात्रा के स्वागत सत्कार सेवा में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते है। इस हेतु स्थानीय प्रशासन का सहयोग सराहनीय रहा। यात्रा का स्वागत करने वालो में विशेष रूप से प्रधान पपिंदर सिंह, पूर्व प्रधान सरदार संतोष सिंह, सरदार लाभ सिंह, ज्ञानी गुरबचन सिंह, दर्शन सिंह, जतिंदर पाल सिंह, नरेंद्र सिंह रिक्की, व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा का विशेष योगदान रहा।

यात्रा का नऊवाबाग से युवा शक्ति द्वारा स्वागत एवम् स्वागत स्थल पहुंचने पर सभी नगर वासियों द्वारा पुष्प वर्षा एवम् माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। जो बोले सो निहाल सत श्री अकाल के नारों से आकाश गूंज उठा। महिला, पुरुष, बच्चे सभी अपने गुरु के दीदार के लिए उत्साहित दिखे। इस अवसर पर सतपाल सिंह (सेठी), वरिंदर सिंह (पवी), सोनी, हरमिंदर सिंह, सरनपाल सिंह (सनी), जसवीर सिंह (रिंकू), कुलजीत सिंह (सोनो), जितेन्द्र सिंह, कैप्टन, रिंकू, गुरमीत सिंह (उमंग), जसवीर सिंह (बंटी), दानिश, जुनैद, महिलाओं में नीना कौर, जसवीर कौर, हरजीत कौर, हरविंदर कौर, सतनाम कौर, गुरप्रीत कौर, (ज्योति), खुशी, अमृत कौर, सतविंदर कौर आदि मौजूद रहे।

=>