बच्चों को 29 को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े निकालने की दवा

हाथरस। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (एनडीडी) पर 29 अगस्त को जनपद में 1 से 19 वर्ष के करीब 5.55 लाख बच्चों को पेट के कीड़े निकालने की दवा (एल्बेंडाजोल टेबलेट) खिलाई जाएगी। कार्यक्रम को लेकर तैयारी बैठक हो चुकी है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डॉ. बृजेश राठौर ने बताया कि जनपद में 1 से 19 वर्ष के लगभग 5.55 लाख बच्चों को पेट के कीड़े की दवा खिलाई जानी है। इसके लिए रणनीति तैयार की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम भारत सरकार का महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है। सीएमओ ने अपील की है कि सभी अभिभावक इस दिन अपने बच्चों को केंद्रों पर गोली अवश्य खिलाएं। यह गोली पूरी तरह से सुरक्षित है, किसी भी भ्रम में पड़ने की आवश्यकता नहीं है।
गोली के खाने के फायदों में बच्चों में एनीमिया की कमी एवं पोषण में वृद्धि, बच्चों में शारीरिक वृद्धि और वजन बढ़ना,  मानसिक एवं शारीरिक विकास, स्कूल में उपस्थिति बढ़ने में सहायक होना, बच्चों की याददाश्त में वृद्धि और सक्रियता बढ़ना है।
दवा खिलाने का तरीका- 1 से 2 साल तक के बच्चों को  आधी गोली खिलाएं। गोली को बारीक पीस लें और पानी के साथ खिलाएं।  2 से 3 साल तकके बच्चों को एक पूरी गोली का चूरा बनाकर पानी में मिलाकर खिलाएं, 3 से 19 साल के बच्चों को दवा चबाकर खाना है। चबाकर खायी गयी दवा का ज्यादा प्रभाव पड़ता है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि दवा उसी के सामने बच्चे को खिलाई जाए। दवा को घर न ले जाने दें ।

loading...
=>