पंजाब : कर्ज के बोझ तले दबे एक ही परिवार की 3 पीढ़ियों ने की आत्महत्या

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार जहां एक ओर कर्जमाफी के बड़े-बड़े वादे कर रही है वहीं दूसरी कर्ज के बोझ तले आत्महत्या करने का मामला सामने आ रहा है। ये घटना बरनाला की है जहां राज्य के 22 वर्षीय एक युवक ने कर्ज का बोझ ना चका पाने के कारण आत्महत्या कर ली है।

 

मृतक लवप्रीत सिंह अपने परिवार की पांचवीं पीढ़ी से हैं जिन्होने कर्ज के बोझ तले दबकर आत्महत्या कर ली है। दरअसल बरनाला के भटोला गांव के इस परिवार में पिछली 3 पीढ़ियों से 5 लोग कर्ज के चलते अपनी जान दे कर आत्महत्या कर चुके हैं। वहीं कर्ज की राशि पिछली पांच पीढ़ियों से बढ़कर 8.57 लाख पहुंच गई है। आपको बता दें कि इस परिवार में सिर्फ महिलाएं ही रह गई हैं।

गौरतलब है कि पंजाब सरकार द्वारा किसानों का 5 लाख तक का कर्ज माफ किए जाने की योजना चलाई जा रही है। लेकिन इस परिवार को योजना से मात्र 57 हजार की मदद ही मिल पाई है। दरअसल परिवार पर कुल 8 लाख का कर्ज है जिसमें उन्होने 6 लाख साहूकार से जबकि 2 लाख रुपये बैंक से लिए थे।

जानकारी के लिए बता दें कि बरनाला के इस परिवार में सबसे पहले 40 साल पहले लवप्रीत के परदादा जोगिंदर सिंह ने आत्महत्या की थी। इसके बाद मृतक के दादा भगवान सिंह ने कर्ज के चलते 25 साल पहले आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद साल 2018 में इसी कर्ज को न चुका पाने की वजह से मृतक के पिता कुलवंत सिंह ने खुदकुशी कर ली थी। इतना ही नहीं परिवार में मृतक लवप्रीत के परदादा के भाई भी कर्ज की वजह से अपनी जान दे चुके हैं।

=>