जौनपुर

युवक की मौत होने से आक्रोशित परिजनों ने नर्सिंगहोम में की तोड़फोड़

 

अधिक धन की मांग और ईलाज में लापरवाही का परिजनों ने लगाया आरोप

श्रीप्रकाश वर्मा ✍️

जौनपुर। शाहगंज नगर के एक निजी नर्सिंगहोम में सर्पदंश के शिकार युवक की मौत होने पर परिजनों जमकर हंगामा करते हुए तोड़ फोड़ कर डाला। मामले की सूचना पर पहुँची कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल में जुट गयी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के आजमगढ़ मार्ग (दादरपुल बाईपास) स्थित सुशीला मेमोरियल हॉस्पिटल में सरपतहां थाना क्षेत्र के रामनगर अरसियां मोड़ निवासी प्रेमचंद गुप्ता के पुत्र संतोष (20) को गुरुवार की सुबह सर्पदंश के कारण भर्ती कराया गया था।
गुरुवार की देर रात संतोष की तबियत और ज्यादा बिगड़ जाने से उसकी मौत हो गयी। मौत की ख़बर पाते ही परिजन चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते शव लेकर चले गए। शुक्रवार की सुबह परिजन व आस पड़ोस के लोग अस्पताल आ पहुँचे और हंगामा करते हुए तोड़फोड़ करने लगे। अलसुबह हुए तोड़फोड़ से घबराए चिकित्सक ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी।सूचना पर पहुंचे कोतवाल जयप्रकाश सिंह व क्षेत्राधिकारी अजय कुमार श्रीवास्तव ने किसी तरह समझा बुझा कर आक्रोशित परिजनों को शांत कराया।
वहीं मृतक के पिता प्रेमचंद गुप्ता कोतवाली पुलिस को तहरीर देते हुए आरोप लगाया कि डॉक्टर द्वारा अधिक धन की मांग की जा रही थी,जिस कारण ईलाज में लापरवाही बरते जाने से मौत हुई है।
तहरीर मिलने पर पुलिस शव को कब्ज़े में लेकर मामले की जाँचकर मुकदमा दर्ज करने की कायवाही में जुटी है।

इस मामले में चिकित्सक डॉ प्रेमचंद का कहना है कि लगाए गए आरोप ग़लत हैं, तबीयत ज्यादा खराब होने पर युवक को भर्ती कराया गया था।

 

loading...
Loading...

Related Articles