उत्तर प्रदेशहरदोई

बिलग्राम के सरकारी अस्पताल में खड़ी घास से पनप रहे मच्छर

*अधिकारियों की लापरवाही से खड़ी घास में हो सकते है जहरीले कीड़े मकोड़े हो सकती है अनहोनी*

बिलग्राम (हरदोई) एक ओर प्रदेश सरकार द्वारा लाखों रुपये सफ़ाई के नाम पर खर्च करने के साथ ही जागरूकता अभियान पर बेहताशा बजट आवंटित किया जाता है।जिससे बारिश के मौसम में लोगों को संक्रमित बीमारियों से बचाव दिलाया जाए।जो स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार विभिन्न स्थानों पर रैलियां के माध्यमों द्वारा उपदेश देकर लोगों को सुरक्षित वातावरण बनाने की अपील की जाती है।जिसमें बारिश के मौसम में डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया सहित मौसमी बीमारियों से बचाव के तरीके स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए जाते हैं, बल्कि घर के आसपास गंदगी व कई दिनों से भरे पानी को निकालने की हिदायत भी दी जाती है, लेकिन नगर स्थित स्वास्थ्य विभाग के खुद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत उसकी कथनी और करनी में फर्क डालती दिखती है।जहां इसके परिसर में ही प्रवेश करने के साथ गंदगी व गंदा पानी कई दिनों पुराना जमा दिखाई देता है।इसी सीएचसी परिसर के मुख्य गेट के पास करीब एक माह से बारिश की वजह से घास जमी हुई है, बल्कि परिसर के आसपास अनावश्यक घास भी उग रही है, जिससे डेंगू व मलेरिया सहित अन्य संक्रमित बीमारी होने का खतरा बना हुआ है। अस्पताल परिसर के पास जिस जगह पर बारिश का पानी जमा हो जता है उसके पास वार्ड है, जहां मरीजों के भर्ती किया जाता है। मरीजों के परिजन का कहना है कि पानी जमा होने से मच्छर तेजी से पनप रहे हैं।जिनका प्रकोप वार्डों के अंदर भी रहता है।इन्हीं मच्छरों के काटने से मलेरिया भी हो सकता है।
शुक्रवार को दिन में हुई झमाझम बारिश के चलते अस्पताल परिसर बिल्डिंग के पीछे इतनी बड़ी बड़ी घास होने के बाद भी अस्पताल व स्थानीय प्रशासन पानी निकासी व घास के लिए कोई उपाय नहीं किए गए।अस्पताल के साथ ही नगर के अन्य शासकीय भवनों के आसपास गंदगी पसरी हुई है, जिसे साफ नहीं करवाया गया है। जिसकी वजह से जहरीले कीड़े मकोड़े पैदा होने की आशंका बनी है।जिससे किसी के साथ अनहोनी हो सकती है।

loading...
Loading...

Related Articles