लखनऊ

रेप में नाकाम कथित मामू ने की मासूम की गला रेत कर हत्या

लखनऊ।  सआदतगंत कोतवाली इलाके से लापता छह वर्षिय मासूम का गला रेत हत्या कर दी गयी। उसका शव बाबा हजारा बाग ठाकुरगंज में रविवार की शाम मिला। इससे सनसनी फैल गयी। बताया गया कि मोहल्ले वाले उसे लेकर अस्पताल दौड़े, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आनन-फानन घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। गुमशुदगी दर्ज होने के बावजुद पुलिस की लापरवाही सामने आने पर स्थानीय लोगो ने कोतवाली का घेराव कर जमकर हंगामा किया और नारे लगाये। देखते-देखते दरगाह हजरत अब्बास रोड पर सैकड़ो की सं या में पहुंच कर स्थानीय लोगो ने प्रदर्शन करना शुरु कर दिया। प्रदर्शन के दौरान बवाल होता देख पुलिस ने लोगों पर लाठीचार्ज भी कर दिया  जिसके बाद भगदड़ मच गई  इसके बाद पुलिस ने स्थिति को कंट्रोल में किया। हालांकि घटना के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ट्रामा सेंटर पहुंचे उन्होंने पूरे मामले की पड़ताल करने के बाद बयान देते हुए कहा कि इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जिसको बच्ची मामू कहती थी हालातों से पूछताछ की जा रही है देर रात तक इस मामले में बवाल चल रहा था।
फजीहत होते देख जि मेदारों ने इस बाबत मासूम के पिता के साथ काम करने वाले एक व्यक्ति को गिर तार करने की बात कही है। जिससे देररात तक पूछताछ की जा रही थी। बताया गया कि रविवार शाम करीब 4 बजे से घर से अचानक लापता हो गयी थी छह वर्षिय मासूम खदीजा। इसके बाद परिजनों ने खोजबीन शुरु की। लेकिन उसका कोई पता नहीं चल सका। इसी बीच ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के बाबा हजारा बाग में देर शाम गला रेता हुआ उसे लोगो ने देखा। स्थानीय लोगो ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को कब्जे में लेकर मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया है और आगे की काररवाई की जा रही है। उधर आरोप लगाये गये की गुमशुदगी दर्ज होने के बाद भी सआदतगंज पुलिस ने कुछ नहीं किया। नतीजा मासूम की गला रेत कर मौत दे दी गयी। इससे आक्रोशित लोगो ने कोतवाली का घेराव कर जमकर पुलिस की कार्य प्रणाली के खिलाफ नारे बाजी की। वहीं फजीहत होते देख और एसएसपी कलानिधि के स ती के कारण इस मामले में मासूम मृतका के मुंह बोले मामू बब्लु उर्फ बच्चन निवासी बाबा हजारा बाग ठाकुरगंज को गिर तार कर उससे घटना के बाबत पूछताछ करने में पुलिस लगी है। एसएसपी का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों की जानकारी मिल सकेगी।
loading...
=>

Related Articles