बच्चा चोरी के शक में मरीज को पीटा

ल्खनऊ । सआदतगंज थाना क्षेत्र में बुधवार की सुबह एक स्कूल के पास टहल रहे एक 25 वर्षीय युवक को लोगों ने बच्चा चोर समझकर पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। स्कूल के पास से लोगों के द्वारा पकड़े गए कथित बच्चा चोर की खबर जंगल की आग की तरह से पूरे इलाके में फैली तो कुछ ही मिनटों में वहा सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई । सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पकड़े गए युवक को अम्बरगंज चौकी ले गई। थोड़ी देर  जांच-पड़ताल के बाद  ही ये साफ हो गया कि जनता द्वारा पकड़ा गया युवक बच्चा चोर नहीं बल्कि साईको का मरीज है क्यूंकि युवक की जेब से कई तरह की दवाएं निकली थी।  इस लिए जनता को ये भ्रम हो गया था कि युवक की जेब में मौजूद दवाएं बच्चों को बेहोश करने की हो सकती है।
सआदतगंज इंस्पेक्टर  महेश पाल सिंह  ने बताया कि पकड़े गये युवक ने अपना नाम व पता  संतोष कुमार निवासी कैसरगंज बहराईच बताया है। संतोष के रिश्ते के चाचा पुत्तन चौपटिया में रहते हैं । संतोष की दिमागीं हालत ठीक नहीं है उसका इलाज भी चल रहा है। इंस्पेक्टर ने बताया कि संतोष के बारे में पता करने पर मालूम हुआ है कि वो साईको का मरीज है बहराईच से वह अपने रिश्ते के चाचा के घर चाौपटियां आया था, जहां से सुबह वो अम्बरगंज की तरफ टहलता हुआ निकल गया था और पुलिस चौकी के करीब टहल रहा था।  तभी लोगों को उस पर बच्चा चोर होने का शक हुआ और जनता ने उसे पकड़ लिया। संतोष की जेब से बरामद हुई दवाओं की वजह से जनता का शक उस पर और ज्यादा गहरा गया।  चौपटिया में रहने वाले उसके चाचा को बुला कर उनसे भी संतोष के सम्बन्ध में पूछताछ की गई तो स्थिति साफ होने पर संतोष को उसके चाचा पुत्तन के हवाले कर दिया गया है।

loading...
=>