खेल

ये दो खिलाड़ी देंगे केएल राहुल को टक्कर, टेस्ट के बाद इस तरह हो सकती है छुट्टी

नई दिल्ली। भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद, मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की निगाहें अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप पर हैं। उधर, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली इससे इत्तेफाक नहीं रखते। यही कराण है कि सौरव गांगुली ने कहा है कि युवा प्रतिभाओं को तलाशने और उन्हें सीनियर टीम में जगह देने के लिए भारत को आगामी टी-20 विश्व कप से भी आगे की सोच रखने की जरूरत है।

सौरव गांगुली गांगुली ने कहा, “भारत के लिए यह जरूरी है कि वह अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप को ना देखें।” सौरव गांगुली ने कहा है, “पिछले विश्व कप से पहले भी इस पर काफी शोर था और कभी-कभी यह सही नहीं होता है। जिस बात की जरूरत है वह यह है कि उन्हें केवल सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को चुनने और उन्हें भरपूर मौका देने की जरूरत है क्योंकि घरेलू सर्किट में हमारे पास कई शानदार खिलाड़ी मौजूद हैं।”

केएल के लिए कड़ी चुनौती

उन्होंने कहा, “ये खिलाड़ी समय के साथ-साथ और अधिक परिपक्व होंगे और बुमराह, भुवनेश्वर और शमी को अपना आदर्श बनाएंगे। यह भारत की तेज गेंदबाजी के लिए अच्छे संकेत होंगे। इसके अलावा स्पिन विभाग में राहुल चाहर, वॉशिंगटन सुंदर, कुलदीप और चहल के होने से भी दूसरों पर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए दबाव रहेगा। राहुल टेस्ट टीम से अपनी जगह गंवा चुके हैं और अब नंबर चार के लिए अगर उन्हें खुद को साबित करना है तो उन्हें श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे से कड़ी चुनौती मिलेगी।”

बाएं हाथ के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सौरव गांगुली ने ऐसा इसलिए कहा है कि क्योंकि बतौर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन का नाम सबसे पहले आएगा। इसके बाद खाली जगह है नंबर चार की, जो श्रेयस अय्यर ने वनडे में अपने नाम कर ली है। ऐसे में अब केएल राहुल को वनडे और टी20 फॉर्मेट में श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे से टक्कर मिलेगी, जो घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

loading...
=>

Related Articles