पुलिस -अपराधियों के बीच मुठभेड़ में चली 10 गोलियां , डीएसपी टीम ने गाड़ी व हथियार किया बरामद

सरकारी सुमो और अपराधी का गाड़ी हुई क्षतिग्रस्त

>> पुलिस की नाकेबंदी ने अपराधियों को किया लाचार ,अंधेरे का लाभ उठाकर भागे ,अपराधियों की हुई पहचान

>> न्यू स्विफ्ट डिजायर गाड़ी के अंदर से मिला कंडोम का पॉकेट और स्प्राइट के बोतल में अंग्रेजी शराब

पटना ( अ सं  ) । राजधानी जिले के दुल्हिनबाजार में अपराधियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ में 10 गोलियां चली । इसमें सरकारी सुमो और अपराधियों का न्यू स्विफ्ट डिजायर गाड़ी क्षतिग्रस्त हुई हैं । डीएसपी मनोज पांडे के कुशल नाकेबंदी से अपराधी लाचार हो अंधेरे का लाभ उठाकर भाग गये । पुलिस ने अपराधियों का मारूती डिजायर गाड़ी बरामद किया हैं ,गाड़ी के अंदर से पुलिस ने देशी कट्टा सहित .315 बोर का 4 जिंदा कारतुस, कंडोम, स्प्राइट के बोतल में अंग्रेजी शराब बरामद किया हैं वहीं अभिषेक नामक व्यक्ति का चिकित्सीय रिपोर्ट मिला हैं । गाड़ी ऑनर का पहचान भोजपुर जिले के सहार थाना क्षेत्र एवं वर्तमान में पटना के रूप में हुई हैं । पुलिस के ऊपर गोलीबारी करने में तीन अपराधी शामिल थे। पुलिस की ओर से जबाबी फायरिंग हवलदार अवधेश कुमार ने किया । पुलिस गस्ती में दुल्हिनबाजार थाने में पदस्थापित एएसआई राम गुलाम सिंह थे।

पुलिस ने गाड़ी रोकने का इशारा किया तो अपराधियों ने कर दिया फायरिंग

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के आदेश पर डीएसपी मनोज पांडे ने चौबीसों घंटे अनुमंडल में गस्ती और जगह -जगह पर नाकेबंदी की व्यवस्था कर रखा हैं । इसका बेहतर रिजल्ट बीते रविवार के रात में मिला भी।
  दुल्हिनबाजार की पुलिस एएसआई राम गुलाम सिंह के नेतृत्व में रकसिया गांव के समीप पुलिस गस्ती पर थी । कल्याणपुर की ओर से एक कार तेज गती में पालीगंज की ओर जा रही थी। संदिग्ध पाकर पुलिस गस्ती दल ने टॉर्च जलाकर गाड़ी रोकने का इशारा किया । नजदीक आते ही अपराधी कार को धीमा कर पुलिस पर 4-6 राउंड गोलीबारी कर दिया । पुलिस टीम के जवानों ने भी मोर्चा संभाला और हवलदार अवधेश कुमार ने अपने कार्वाइन से जबाबी फायरिंग करते हुये चार राउंड गोली चलाया जो अपराधियों के गाड़ी पर लगा।
 इसके बाद आगे -आगे अपराधियों की न्यू स्विफ्ट डिजायर कार और पीछे पुलिस की सुमो । इधर पुलिस पदाधिकारी ने डीएसपी पालीगंज को घटना की सूचना दिया । डीएसपी मनोज पांडे ने अनुमंडल क्षेत्र के सड़कें पर नाकेबंदी करा दिया । धरहारा मोड़ के पास अपराधियों ने पुलिस की गाड़ी देखकर मसौढ़ी के रास्ते भागने लगे । इधर से पालीगंज पुलिस ,अपने ओर से सिगोड़ी पुलिस ने घेराबंदी किया ।ईचीपुर पुलिस पिकेट ने पुरी सड़क पर ड्रॉम से जाम कर दिया । पुलिस को देखकर अपराधियों ने अपनी कार जमुई की ओर मोड़ लिया ,पीछे से दुल्हिनबाजार की गस्ती गाड़ी अपराधियों के पीछे दम लगाकर जुटी रही । चारों तरफ से घिरा पाकर अपराधियों ने कार को लॉक कर अंधेरे का लाभ उठाकर भाग खड़ा हुये । पुरी रात अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुटी रही ।

बरामद गाड़ी के अंदर से मिला हथियार ,शराब और कंडोम

अपराधी, अब हथियारों के साथ कॉनडम भी लेकर चल रहे हैं । इसका खुलासा अपराधियों की बरामद गाड़ी से हुई हैं । पुलिस ने जब उक्त न्यू बरामद कार के अंदर तलाशी लिया तो एक देशी कट्टा,  4 जिंदा कारतूस, कंडोम, और स्प्राइट के बोतल में अंग्रेजी शराब बरामद किया हैं । इसके अलावा अभिषेक नामक व्यक्ति का चिकित्सीय पेपर भी पुलिस को हाथ लगी हैं ।

पहचान में आएं अपराधी और गाड़ी के ऑनर को भी कर लिया पता

सिटी एसपी अभिनव कुमार एवं डीएसपी मनोज पांडे ने पुरी घटना की जांच सोमवार को किया । पुलिस अधिकारियों की मानें तो घटना में शामिल अपराधियों की पहचान कर ली गयी हैं ।गाड़ी ऑनर का भी पता चल गया हैं । गाड़ी ऑनर भोजपुर जिले के सहार के है और पटना से भी ताल्लुक रखते हैं । जल्द ही घटना में शामिल सभी अपराधी गिरफ्तार होंगे ।
loading...
=>