कारोबार

6000 करोड़ खर्च करेगी अगले दो सालों में बीएसएनएल…

नई दिल्ली । सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी, बीएसएनएल अगले दो सालों में 40,000 बेस ट्रांसीवर स्टेशनों (बीटीएस) के लगाने पर 6,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी, ताकि इसके मोबाइल नेटवर्क का विस्तार हो सके। कंपनी इसके लिए उपकरण बनाने वाली कंपनियों को निविदा जारी करने की प्रक्रिया में है।

भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के एक अधिकारी के मुताबिक, इस विस्तार परियोजना में नोकिया और जेडटीई शीर्ष बोलीदाता के रूप में उभरी हैं।

कंपनी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अनुपम श्रीवास्तव ने यहां शुक्रवार को कहा, ‘‘हमने पिछले तीन सालों में 40,000 बीटीएस लगाए हैं और विस्तार के अगले चरण में हैं। हम अगले दो सालों में और 20,000 बीटीएस लगाएंगे। इस पर करीब 6,000 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा।’’

उन्होंने कहा कि नोकिया को हाल ही में एडवांस पर्चेज ऑर्डर जारी कर दिया गया है और अगले 10 दिनों में जेडटीई को भी जारी कर दिया जाएगा।

नए बीटीएस से 2जी, 3जी और 4जी तीनों सेवाएं दी जा सकेंगी और ऑपरेटर अपने पुराने 2जी नेटवर्क को बदल सकेंगे।

वर्तमान में बीएसएनएल के 1,30,000 बीटीएस हैं। इस विस्तार के बाद बीटीएस की कुल संख्या बढक़र 1,70,000 हो जाएगी।

loading...
Loading...

Related Articles