उत्तर प्रदेश

देवरिया खुर्द मे जीएस की जमीन पर भू माफियाओं का कब्जा,योगी सरकार को खुलेआम चुनौती

देवरिया खुर्द मे जीएस की जमीन पर भू माफियाओं का कब्जा,योगी सरकार को खुलेआम चुनौती

चिनहट के देवरिया खुर्द ग्राम सभा में जीएस की जमीन पर भूमाफियाओं का कब्जा,किसानो को धमका कर बन्दूक की नोक पर मानको को ताक पर रखकर कर रहे प्लाटिगं,

ग्राम प्रधान देवरिया खुर्द ने सीएम से लेकर लखनऊ डीएम को दिया षिकायती पत्र ,अभी तक नहीं हुई कोई कार्यवाही

लखनऊ 1अक्टूबर।लखनऊ सदर तहसील के अन्तर्गत चिनहट स्थित देवरिया खुर्द ग्राम सभा में भू माफियाओं व्दारा ग्राम समाज की जमीन पर अवैध कब्जा कर प्लाटिगं कर लोगो को ठगने का काम किया जा रहा है।ग्राम प्रधान सहित किसानो ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर जिलाधिकारी लखनऊ को भूमाफियाओं के खिलाफ शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई लेकिन अभी तक न तो सीएम कार्यालय से कोई कार्यवाही हुई और न ही जिला प्रशासन व्दारा भू माफियाओं के खिलाफ कोई की गई।देवरिया खुर्द के पीडित किसान भूमाफियाओं से परेशान होकर आत्म हत्या करने को मजबूर है।मिली जानकारी के अनुसार ग्राम सभा देवरिया निवासी प्रमोद कुमार रावत पुत्र गुरूप्रसाद ने जिलाधिकारी लखनऊ को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि चिनहट स्थित देवरिया खुर्द ग्राम में दबगं प्रापर्टी डीलर विनोद कुमार यादव गावं के किसानो को डरा धमका कर उनकी जमीन को हडप कर उस पर प्लाटिगं करने का काम कर रहा है।दबगं प्रापर्टी डीलर विनोद यादव अपने सैकडो असलहा धारियों के साथ गावं में जाकर ग्राम समाज की जमीन पर कब्जा कर गरीब किसानो के खेत से चकरोट को बडे चैडे सडक के में बदल कर लोगो को ठगने का काम कर रहा है।प्रमोद रावत ने शिकायती पत्र के माध्यम से उच्चाधिकारियों को जानकारी देते हुए बताया कि देवरिया खुर्द ग्राम सभा लखनऊ विकास प्रधिकारण 2021 के प्लान के अन्तर्गत है जिसका खुलेआम उल्लघंन करते हुए विनोद यादव भोले भाले लोगो को ठग कर उनको प्लाट बेचने का काम कर रहा है।शिकायती पत्र के अनुसार डीलर व्दारा प्लाट बेचने के लिए न तो विकास प्राधिकरण व्दारा अनुमति ली गइ और न ही कोइ मानक तय किया गया है।अपनी दबगंइ के बल पर असलहो के बल गावं के सीधे साधे किसानो को डरा धमका कर उनकी जमीन पर कब्जा किया जा रहा है।एक तरफ योगी सरकार भू माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की बात कहती है तो वहीं दूसरी तरफ उन्हीे आला अधिकारी भू माफियाओं से साठं गाठ कर अपनी जेबे भरने में मस्त है।अगर देवरिया ग्राम सभा के लोगो को जल्द न्याय न मिला तो गावं के लाचार किसान आत्म हत्या करने को मजबूर हो सकते है इससे इन्कार नहीं किया जा सकता है।

loading...
=>

Related Articles