खेल

रांची टेस्ट में रोहित शर्मा ने दोहरे शतक से दोहराया सचिन-सहवाग का कारनामा

ओपनर रोहित शर्मा ने रांची में जारी साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में दोहरा शतक जड़ा। यह उनके टेस्ट करियर का पहला दोहरा शतक है। उन्होंने यहां छक्के से शतक पूरा किया, जबकि छक्का लगाकर ही दोहरा शतक पूरा किया। रबाडा की गेंद पर आउट होने वाले रोहित ने यहां 255 गेंदों का सामना किया, जबकि 28 चौके और 6 छक्के लगाते हुए 212 रनों की पारी खेली। यह उनके टेस्ट करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है।

इसके साथ ही रोहित ने कई रेकॉर्ड लिस्ट में भी अपनी जगह बना ली। उनके नाम वनडे में पहले से ही 3 दोहरे शतक थे, जबकि अब उन्होंने टेस्ट में भी दोहरा शतक बना दिया है। वह उन खास भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने वनडे और टेस्ट दोनों क्रिकेट फॉर्मेट में दोहरा शतक जड़ा है।सबसे पहले यह कारनामा सचिन तेंडुलकर ने किया था। उनके बाद वीरेंदर सहवाग और वेस्ट इंडीज के क्रिस गेल ने इस कारनामे को दोहराया। रोहित शर्मा वनडे और टेस्ट दोनों क्रिकेट फॉर्मेट में दोहरा शतक लगाने वाले दुनिया के चौथे, जबकि भारत के तीसरे बल्लेबाज बन गए हैं। रोहित के नाम वनडे में पहले ही वर्ल्ड रेकॉर्ड 3 दोहरे शतक थे।

यही नहीं, यह सिर्फ दूसरा मौका है जब भारतीय बल्लेबाजों ने किसी एक टेस्ट सीरीज में तीन दोहरे शतक लगे हैं। बता दें कि इससे पहले मयंक अग्रवाल ने पुणे में 215 रन की पारी खेली थी, जबकि विशाखापत्तनम में कप्तान विराट ने नाबाद 254 रन बनाए थे। इससे पहले 1955-56 में न्यू जीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी भारत की ओर से 3 दोहरे शतक लगे थे। उस वक्त वीनू मांकड़ ने दो और पॉली उमरीगर ने एक दोहरा शतक लगाया था।

यह सीरीज में रोहित का तीसरा शतक है। अपनी डबल सेंचुरी पारी के दौरान ही रोहित शर्मा ने मौजूदा सीरीज में 529 रन हो गए हैं। वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने अजहरुद्दीन के 388 रनों के रेकॉर्ड को पीछे छोड़ा।

loading...
=>

Related Articles