लाइफ स्टाइल

प्लास्टिक बोतल में पानी पीने से होता है कैंसर का खतरा, दिमाग भी काम करना कर देता है बंद

अगर आप प्‍लास्टिक के बोतल से पानी पीते हैं, तो इसके कारण कैंसर, डायबिटीज सहित कई दूसरी खतरनाक बीमारियों के होने का खतरा बढ़ जाता है। जानिए कैसे और क्यों सेहत के लिए नुकसानदायक होता है प्लास्टिक की बोतल में पानी पीना। प्लास्टिक की बोतल में बहुत सारे कैमिक्लस का इस्तेमाल किया जाता है।

जब ये प्लास्टिक गर्म होती है तो वहीं कैमिक्लस पानी में मिल जाते हैं और हमारे शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। ये कैमिक्लस इतने खतरनाक होते हैं कि इनसे कैंसर का खतरा भी बढ़ सकता है। एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि जब प्लास्टिक की बोतल जब धूप या ज्यादा तापमान की वजह से गर्म होती है तो प्लास्टिक में मौजूद नुकसानदेह केमिकल डाइऑक्सिन पानी में मिल जाते हैं। इसकी वजह से महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

प्लास्टि की बोतल का पानी पीने से महिलाओं की फर्टिलिटी पर भी असर पड़ता है। प्‍लास्टिक की बोतल को बनाने के लिए बाइसफेनॉल ए का असर स्‍पर्म और ओवम पर होते हैं। ला‍‍स्टिक की बॉटल दिल के भी बहुत नुकसानदायक होती है। प्‍लास्टिक को बोतल से दिमाग कमजोर हो सकता है। प्‍लासिटक की बोतल में प्रयोग की जोन वाली बाइसफेनोल ए के कारण दिमाग के काम करने की क्षमता को कम कर देता है। इसके कारण इंसान की समझने और याद रखने की शक्ति कम होने लगती है।

loading...
=>

Related Articles