लाइफ स्टाइल

टैटू बनवाने से आपकी त्वचा पर होते हैं इस तरह के बुरे प्रभाव

अपनी स्किन पर टैटू बनवाना इन दिनों एक ट्रेंड बन गया हैं। लोग शरीर के विभिन्न हिस्सों पर टैटू बनवाना पसंद करते हैं। हालांकि टैटू को एक स्टाइल स्टेटमेंट माना जाता है लेकिन इनसे त्वचा पर कई हानिकारक प्रभाव भी पड़ते हैं। ये ना केवल आपकी त्वचा में एलर्जी होने का खतरा बढ़ा देते हैं बल्कि कुछ गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण भी बन सकते हैं। अगर आप सही तरीके से टैटू बनवाते हैं तो इस तरह का खतरा कम होता है लेकिन छोटी गलती भी आपके लिए बड़ी समस्या खड़ी कर सकती है। आइए जानते हैं कि टैटू बनवाने से आपकी त्वचा पर कौन से बुरे प्रभाव होते हैं।

टैटू दाग छोड़ देती है
अगर आप टैटू की तरफ ध्यान देंगे तो देखेंगे कि यह एक घाव की तरह दिखता है। टैटू बनवाने के बाद जब आपकी स्किन पूरी तरह से हील हो जाती है तो आपकी त्वचा पर केलोइड बनने लगते हैं। केलोइड त्वचा पर होने वाली गांठ होती हैं। कई बार टैटू बनवाने का तरीका ऐसा होता है इसके कारण त्वचा पर अधिक केलोइड बनने लगते हैं। समय के साथ इनका आकार बढ़ सकता है और इनमें खुजली भी होने की संभावनाएं होती हैं।

स्किन एलर्जी की संभावना
हमारा शरीर कई विशेष प्रकार की स्याही से एलर्जिक हो सकता है जो टैटू बनाने के उपयोग की जाती हैं। इनके कारण त्वचा पर सूजन, चकत्ते, लालपन आदि समस्याएं हो सकती हैं। अगर टैटू बनवाने के तुरंत बाद ऐसा नहीं होता है तो यह एक निश्चित समय के बाद आपको परेशान कर सकता है। इसे सीडोलिमोफोमेटस एलर्जिक रिएक्शन के रूप में जाना जाता है।

ब्लड इंफेक्शन
टैटू बनाते वक्त त्वचा पर डिजाइन बनाने के लिए सुई का इस्तेमाल किया जाता है। यह सुई हर व्यक्ति के लिए इस्तेमाल की जाती है जिससे यह संक्रमित हो सकती है। संक्रमित सुई के कारण आपका शरीर कई तरह की परेशानियों में पड़ सकता है। इसके कारण एचआईवी, हेपेटाइटिस बी, हेपेटाइटिस सी जैसी गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा आपको ब्लड इंफेक्शन होने का खतरा भी होता है। इसलिए जब भी आप टैटू बनवाने की सोचें तो फ्रेश निडिल का इस्तेमाल करें।

loading...
=>

Related Articles