नारी व बाल जगत

जवां और खूबसूरत दिखने के लिए ट्राई करें ये आसान तरीके, निखर जाएगी आपकी स्किन

चेहरे पर बढ़ती उम्र का असर दिखने के पीछे डिहाइड्रेशन काफी हद तक जिम्मेदार होता है। पानी पीने से त्वचा को नमी मिलती है और चेहरे में सिकुड़न नहीं होती और झुर्रियां पड़ने से बचाव करती है और आपकी त्वचा को चमक भी मिलती है।स्वस्थ त्वचा और शरीर में नमी बनाए रखने के लिए रोजाना कम से कम आठ गिलास पानी जरूर पिएं।आपके शरीर में मौजूद तनाव बनाने वाला हार्मोन कोरटिसोल आपको मानसिक और शारीरिक थकान प्रदान करता है, जिसका असर बढ़ती उम्र के साथ आपके चेहरे पर नजर आने लगता है। रोजाना के तनाव को कम करने के लिए ध्यान, प्रणायाम करें। मसाज कराएं और अरोमाथेरेपी करें। ये निश्चित रूप से आपके मन और शरीर को ऊर्जावान बनाएंगे।

अपने दिन की शुरुआत अपने त्वचा के लिए उपयुक्त सौम्य क्लींजर के इस्तेमाल के साथ करें। कैलेन्ड्युला या खीरा जैसी चीजों का इस्तेमाल करें, जो चेहरे को कोमलता प्रदान करते हैं।फिर अपनी त्वचा के अनुसार अल्कोहल फ्री टोनर लगाएं। टोनर आपके चेहरे को सौम्यता के साथ साफ करने में मदद करता है। यह त्वचा को रोमछिद्रों में कसाव लाता है और त्वचा को सीरम और मॉइश्चराइजिंग के लिए तैयार करता है।

टोनर के बाद चेहरे पर हाइड्रेटिंग सीरम लगाएं। इसके लिए विटामिन सी, ग्लिसरीन युक्त एक प्रभावी असरदार सीरम का इस्तेमाल करें, जो त्वचा को कोमल बनाए और इसे कम थका व कम नीरस दिखाएं। यह त्वचा पर पड़ी महीन रेखाओं को दूर करने में मदद करता है।
हल्के लेकिन प्रभावी डेली फेस क्रीम से चेहरे को मॉइश्चराइज करें। यह त्वचा को नमी प्रदान करता है और इसे मुलायम, स्वस्थ रखता है। एंटी-एजिंग लाभ वाले मॉइश्चराइजिंग क्रीम का इस्तेमाल करें, जो हाईएल्युरोनिक एसिड, जैसोमनिक एसिड, कॉपर पीसीए और कैल्शियम पीसीए युक्त हो।

कोलेजन हमारी त्वचा, बाल और नाखून को मजबूती प्रदान करने में मदद करता है। इस लाभदायक प्रोटीन के लिए आहार में और ज्यादा प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें। यह बढ़ती उम्र के असर को कम करता है। बादाम, ब्रोकोली, जई, क्विनोआष वालनट, टोफू और सोया मिल्क ऊत्तकों के मरम्मत व निर्माण में योगदान देते हैं और कोलेजन बरकरार रखते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे विटमिन ए, सी, ई और बीटा-कैरोटिन शरीर के खोए पोषक तत्वों को फिर से लाने में मददगार साबित होते हैं। हरी सब्जियां रक्त चाप को नियंत्रित रखती हैं।

लैंवेडर, रोजहीप, जेरेनियम, अनार और चंदन का तेल त्वचा में नमी बरकरार रखते हैं और इसमें चमक लाते हैं और त्वचा की झुर्रियों को दूर करते हैं।त्वचा की देखभाल में सनस्क्रीन की अहम भूमिका है, यह हानिकारक किरणों यूवी ए और यूवी बी के प्रभाव से बचाता है। इन किरणों से त्वचा काफी नुकसान पहुंचता है, ऊतक नष्ट हो सकता है और स्किन कैंसर तक हो सकता है। एसपीएफ 50 वाले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।
त्वचा पर बढ़ती उम्र के असर से बचने के लिए धूम्रपान नहीं करें। जितना संभव हो सके प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ के सेवन से बचें। ये हड्डियों को कमजोर बनाते हैं। ऑर्गेनिक खाद्य पदार्थो को तरजीह दें।

loading...
=>

Related Articles