मनोरंजन

Happy Birthday Prabhas: ‘बाहुबली’ स्टार प्रभास के जन्मदिन पर जानें उनकी खास बातें

‘बाहुबली’ स्टार प्रभास आज अपना 40वां जन्मदिन मना रहे हैं। प्रभास के फैंस की तादाद काफी लंबी है। फिल्म बाहुबली से लेकर साहो तक में अपने एक्टिंग से इन्होंने दर्शकों का दिल जीता है।

प्रभास के लुक्स और उनकी फिटनेस को देखने के बाद उनकी उम्र का अंदाजा शायद ही आप लगा पाएंगे। बाहुबली से दुनिया भर में छा जाने वाले प्रभास का फिल्मी सफर आसान नहीं रहा है। आज वो जिस मुकाम पर है वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने कई सालों तक स्ट्रगल किया है। प्रभास ने साल 2002 में तेलुगू फिल्म ‘ईश्वर’ से अभिनय की शुरुआत की। इस फिल्म से बहुत उम्मीदें की गई थीं लेकिन ये फिल्म लोगों को कुछ खास पसंद नहीं आई। हालांकि ये फिल्म फ्लॉप नहीं थी, बल्कि इसे एवरेज हिट करार दिया गया।

इसके बाद भी प्रभास की किस्मत रंग नहीं लाई और 2003 में रिलीज हुई उनकी दूसरी फिल्म ‘राघवेंद्रम’ भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल नहीं दिखा पाई। उनकी किस्मत का कनेक्शन लोगों से तब जुड़ा जब 2004 में फिल्म ‘वर्शम’ रिलीज हुई। इसमें प्रभास के साथ तृषा कृष्णम और गोपीचंद भी नज़र आए थे। फिल्म ने अच्छी कमाई की। ये फिल्म वर्ल्डवाइड रिलीज हुई और इसने प्रभास को स्टारडम का स्वाद चखाया। शानदार अभिनय के लिए प्रभास ने Best Young Performer का संतोषम फिल्म अवॉर्ड जीता। उनकी को-स्टार तृषा ने भी फिल्मफेयर का बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड जीता।

हालांकि, अभी प्रभास का स्ट्रगल यही खत्म नहीं हुआ। इसी साल रिलीज हुई उनकी फिल्म अडवि रामुडु लोगों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी। फिल्म को बहुत ही नकारात्मक रिव्यू मिला और फ्लॉप हो गई। प्रभास इससे आहत तो बहुत हुए लेकिन हार नहीं मानी। उन्हें सही समय का इंतजार था और फिर जाने माने डायरेक्ट एस. एस. राजामौली की नज़र प्रभास पर पड़ी।

2005 में राजमौली के निर्देशन में प्रभास की फिल्म ‘छत्रपति’ रिलीज हुई। ये फिल्म सुपरहिट हुई। एक शरणार्थी की भूमिका निभाकर प्रभास ने खूब तारीफें बटोरीं और ये फिल्म करीब 100 दिनों तक 54 थियेटरों में चलती रही। इसके बाद एक बार फिर 2006 में उस समय लोगों को निराशा हाथ लगी जब प्रभास की फिल्म ‘पौर्णमी’ रिलीज हुई। ये फिल्म फ्लॉप रही। प्रभास अबतक तेलुगू इंडस्ट्री में अपना सिक्का जमा चुके थे। उनकी फिल्म योगी (2007), मुन्ना (2009), बिल्ला (2009) और एक निरंजन (2013) बॉक्स ऑफिस पर हिट रही। 2011 में रिलीज हुई फिल्म डार्लिंग में उन्हें पसंद किया गया। मिस्टर परफेक्ट (2011) में भी प्रभास की कॉमेडी को लोगों ने सराहा। इन्होंने अपनी कॉमेडी से लोगों को इतना हंसाया कि कभी इन्हें डार्लिंग कहा गया तो कभी फैंस ने इनका निक नेम ही ‘मिस्टर परफेक्ट’ रख दिया।

कॉमेडी के बाद प्रभास ने अपने एक्शन से लोगों का दिल जीता। मारधाड़ और जबरदस्त एक्शन से भरपूर फिल्म ‘रेबेल’ (Rebel, 2012) में प्रभास ने तमन्ना भाटिया के साथ रोमांस करते हुए माफियाओं का खात्मा किया। ये फिल्म हिट रही और फिर 2014 में हिंदी में रिलीज हुई। रिबेल के बाद प्रभास ने एक और सुपरहिट फिल्म ‘मिर्ची’ (2013) दी, जिसमें उनके साथ अनुष्का शेट्टी नज़र आईं। साल 2014 में ही अजय देवगन की फिल्म ‘एक्शन जैक्शन’ से प्रभाष ने हिंदी सिनेमा में डेब्यू कर लिया। इस फिल्म में वो गेस्ट अपीयरेंस में थे। इस समय तक प्रभास रीजनल सिनेमा में तो अपने पैर जमा चुके थे लेकिन हिंदी भाषी लोगों के लिए अभी भी उनका नाम जाना पहचाना नहीं था।

2015 में सिनेमाघरों में बाहुबली रिलीज हुई और प्रभास के किस्मत का सितारा चमक गया। मुख्य रुप से तेलुगू में बनी इस फिल्म को तमिल, मलयालम और हिंदी में डब किया गया। इस फिल्म को हिंदी में करन जौहर के धर्मा प्रोडक्शन ने रिलीज किया। इसमें प्राचीन राज्य माहिष्मति राज्य की लार्जर दैन लाइफ की कहानी दिखाई गई जिसमें प्रभास ने अमरेंद्र बाहुबली (पिता) और महेंद्र बाहुबली (सिवुडु) दोनों का किरदार निभाया। ये महज फिल्म नहीं थी बल्कि परदे पर रची गई एक ऐसी तिलिस्मी दुनिया थी जिसने दर्शकों पर कभी ना उतरने वाला जादू कर दिया।

‘बाहुबली’ के बाद प्रभास की फिल्म साहों बॉक्स ऑफिस पर आई। इसी साल रिलीज हुई इस फिल्म ने उनके फैंस को जरा निराश किया लेकिन उनके स्टारडम पर जरा भी असर नहीं पड़ा। फैंस अब प्रभास की आने वाली और भी फिल्मों को इंतजार कर रहे हैं। अब देखना होगा कि आनेवाली फिल्मों में प्रभास दर्शकों का कितना मनोरंजन कर पाते है।

loading...
Loading...

Related Articles