Main Sliderलखनऊ

58वीं मण्डलीय पेंशन अदालत सम्पन्न, 13 प्रकरणों में से 11 निस्तारित

लखनऊ। मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम की अध्यक्षता में आयोजित 58वीं मण्डलीय पेंशन अदालत में कुल 13 प्रकरण प्रस्तुत किये गये। प्रस्तुत प्रकरणों मे 11 का निस्तारण प्रकरणकर्ता की सहमति के आधार पर किया गया, शेष 02 प्रकरणों के निस्तारण के लिए सम्बन्धित विभागों को कडे़ निर्देश दिये गये कि प्रकरणों की आवश्यक कार्यवाही पूरी कर शीध्र उनका निस्तारण कराया जायें। मण्डलायुक्त ने कहा कि पेंशन के मामलों के निस्तारण मे लापरवाही न बरती जाये तथा समयबद्धता के साथ सभी औपचारिकताएं पूर्ण कराते हुए पेंशन एवं सेवानैवृत्तिक देयों का समय से भुगतान सुनिश्चित किया जाये।
मण्डलायुक्त ने कहा कि पेंशन के मामले अति संवेदनशील होते हैं इससे सेवानिवृत्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों की रोजमर्रा की जिन्दगी जुडी होती है। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा है कि सेवानैवृत्तिक लाभों की देयता समय से सुनिश्चित की जानी चाहिए। उन्होने कहा कि पेंशन प्रकरणों के निस्तारण में किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जायेे तथा निर्धारित समय सारिणी के अनुसार पेंशन प्रपत्र तैयार कराकर  स्वीकृति की कार्यवाही की जानी चाहिए।
इस अवसर पर अपर निदेशक पेंशन एवं कोषागार इन्द्रजीत विश्वकर्मा ने बताया कि आज की आयोजित 58वीं मण्डलीय पेंशन अदालत में कुल 13 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिसमें में से 11 प्रकरणो का निस्तारण किया गया तथा शेष 02 प्रकरणों को निस्तारित कर अगली पेंशन अदालत में प्रस्तुत करने के निर्देश मण्डलायुक्त ने सम्बन्धित अधिकारियों को दिये है। अपर निदेशक पेंशन एवं कोषागार ने बताया कि पेंशन अदालत में 02 पुराने प्रकरण भी प्रस्तुत किये गये जिसमे से दोनों का निस्तारण कर दिया गया।

इस अवसर पर अपर निदेशक पेंशन अशोक कुमार सिंह सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण एवं सेवानिवृत्त कार्मिक आदि उपस्थित थे।
loading...
=>

Related Articles