उत्तर प्रदेशलखनऊ

आर्मी का जवान बन कार बेचने के बहाने दो लाख ऐंठे

लखनऊ। आशियाना थाना क्षेत्र में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां  वेबसाइट पर कार बेचने का पोस्ट डाल कर जालसाजों ने युवक से 2 लाख 37 हजार रुपये ऐंठ लिये। ठग ने अपनी पहचान सीआईएसएफ में तैनात सिपाही के रूप में देते हुये युवक से सम्पर्क किया था। बताई गई रकम अदा करने के बाद भी कार न मिलने पर पीड़ित ने  थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।
जानकारी के मुताबिक , रुचिखण्ड निवासी सुमित सोनकर पुरानी कार खरीदना चाहते थे। 30 अक्तूबर को उन्होंने क्विकर वेबसाइट सर्च की। उन्हें दिल्ली में रजिस्टर एक कार पसंद आई। वेबसाइट पर पोस्ट डालने वाली प्रोफाइल से मोबाइल नम्बर निकाल कर सुमित ने सम्पर्क किया। बात करने वाले शख्स ने अपनी पहचान सीआईएसएफ में तैनात सिपाही के तौर पर दी। सौदा तय होने पर सुमित से पेटीएम खाते में पांच हजार रुपये जमा कराये गये। इसके बाद अलग-अलग मद में भी उनसे 12 हजार रुपये लिये गये। सुमित के अनुसार आरोपी ने आर्मी कोरियर सर्विस से कार भेजने की बात कही थी। वहीं, गाड़ी भेजने से पहले उनसे 80 हजार रुपये जमा करा लिये गये। इसके बाद सुमित को एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि गाड़ी अमौसी एयरपोर्ट पर आ गई है। मगर, डिलेवरी से पहले बचे हुये एक लाख रुपये खाते में जमा करने के लिये कहा गया। सुमित के मुताबिक रुपये का इंतजाम करने में उन्हें देरी हो गई थी। जिस वजह से उनसे लेट फीस भी ली गई। करीब 2 लाख 37 हजार रुपये जमा करने के बाद भी उन्हें कार नहीं मिली। फोन करने पर आरोपी टालमटोल करने लगा। इंस्पेक्टर आशियान विश्वजीत सिंह ने बताया कि सुमित ने कुछ मोबाइल नम्बर दिये हैं, जिन्हें सर्विलांस पर लेकर जांच-पड़ताल की जा रही है।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button