अयोध्याउत्तर प्रदेश

महंत नृत्य गोपाल दास पर की गयी टिप्पणी पर भड़के संत

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास पर टिप्पणी को लेकर मणिराम दास छावनी के संत भड़क उठे। सैकड़ों की संख्या में संतों ने परमहंस दास के तपस्वी छावनी आश्रम पर धाबा बोल दिया। मामला बिगड़ता देख परमहंस ने खुद को तपस्वी छावनी के कमरे में सुरक्षित बंद कर दिया।  घटना की सूचना मिलने के बाद भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं। परमहंस पर मणिराम दास छावनी के संतों ने महंत नृत्य गोपालदास के बारे में अभद्र भाषा का आरोप लगाया है। इसी वजह से संत नाराज हैं। जानकारी के मुताबिक महंत नृत्य गोपालदास के बारे में अभद्र भाषा का आरोप लगा रहे थे। मौके पर एडीएम सिटी रेजिडेंट मजिस्ट्रेट एसपी सिटी और सीओ अयोध्या समेत कई बड़े अधिकारियों ने पहुंचकर मामले को शांत कराया।  बताया जा रहा है कि राम मंदिर निर्माण के लिए आमरण अनशन कर चुके महंत परमदास एक निजी टीवी चैनल पर उज्ज श्री महाराज को लेकर आयोजित डिबेट किया गया था, जिसमें महंत परमहंस दास शामिल हुए थे। श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के समर्थकों ने नाराजगी जताते हुए उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई थी। उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास के शिष्य आनंददास ने परमहंसदास को अज्ञानी और मूर्ख बताते हुए कहा कि अज्ञानता में उज्ज महाराज के संदर्भ में जो डिबेट की वह अशोभनीय है अभद्रतापूर्ण है। गौरतलब है कि राम मंदिर निर्माण के लिए आमरण अनशन करने के कारण महंत परमहंसदास चर्चा में रहे थे। आत्मदाह का ऐलान करने पर वह जेल भी जा चुके हैं।
गुरुवार सुबह बड़ी संख्या में महंत नृत्य गोपालदास के समर्थकों ने महंत परमहंसदास के आवास का घेराव कर दिया। समर्थक नारेबाजी करने लगे। देखते ही देखते वहां भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंची। हंगामा बढ़ते देख पुलिस ने महंत परमहंसदास को हिरासत में ले लिया।

loading...
Loading...

Related Articles