उत्तर प्रदेशहरदोई

राम बारात में सड़क पर दिखा आस्था का संगम

मनामोहक झांकियां व प्रदेश भर से आये कलाकार

एसडीएम रामविलास यादव और कोतवाल अमरजीत को सम्मान से नवाजा गया

बिलग्राम,हरदोई।बिलग्राम कस्बे में रामलीला की राम बारात का इन्तजार हर किसी को था। शनिवार की रात करीब एक किलामीटर झांकियों और कई कार्यक्रमों से सजी राम बारात निकाली गई।रथ पर सवार श्री राम दूल्हा बने और सड़क पर आस्था का सैलाब दिखा।आयोजित राम बारात में हिंदू मुस्लिम एकता का संगम दिखा।बैंड बजाते और आतिशबाजी बिखरते मुस्लिम समुदाय के लोग धार्मिक गीतो से सौहार्द का माहौल बनाते रहे। प्रदेश भर से आए कलाकारो ने झांकिया पेश की। राम बारात में इस बार रथों के साथ 18 बड़ी झांकियां, बैन्ड के साथ रात सात बजे मंशानाथ कालेज से बारात उठी।जैसे ही सड़क पर बारात पहुची,वैसे ही आसामान सतरंगी आतिशबाजी से नहा गया।बारात मे शामिल होने के लिए बिलग्राम के अलावा गांवो से भी हजारों की संख्या में लोग शामिल होने आए थे। बारात,साण्डीरोड,चौराहा,सदरबाजार,पीपल चौराहा,बजरियां,इमामबाड़ा होते हुए रात को करीब एक बजे सुभाष पार्क पहुची।वही पर राम जी की आरती कमेटी के महामंत्री रामसेवक यादव,अध्यक्ष प्रदीप यादव,प्रबन्धक नीरज सिंह,संयोजक धर्मेन्द्र यादव ने उतारी। उपाध्यक्ष विजय गुप्ता,अरुण गुप्ता,टिल्लू गुप्ता,प्रेम प्रकाश श्रीवास्तव,रामस्वरुप वर्मा,सह सयोजक डा वीरेन्द्र सिंह,अजय राज,पवन दुबे,शिवम यादव,अमित विश्वास,कोषाध्यक्ष महावीर,पवन अग्निहोत्री,मुकेश दीक्षित,लीला मंचन प्रमुख परमाईलाल यादव,हरिनाम कुशवाहा,मनोज अर्कवंशी,कमलेश यादव,मेला प्रभारी बीपी सिंह,आईटी प्रमुख अंशुल,शैलेन्द्र सिंह,राजीव, मीडिया प्रभारी सैफ अली जाफरी,रिजवान अंसारी,फारुख कुरैशी, शमशुद्दीन इस्लाम अनिल कटियार,शिवम कटियार,मंगतराम अर्कवंशी,सहित तमाम लोग व्यवस्था देखते रहे।सुरक्षा के इंतजाम के लिए पुलिस व पीएसी लगाई गई।बीते 2 महीने से बेहतर काम करने और एकता की मिसाल कायम करने पर एसडीएम रामविलास यादव, कोतवाल अमरजीत सिंह को बिलग्राम नागरिक सम्मान से नवाजा गया।कमेटी के लोगों ने सामूहिक रूप से माला पहनाकर सम्मानित किया।मुस्लिमों ने गाया मेरे मन मे बसे है राम साल भर की तैयारियों को कस्बे के महाराजा बैण्ड व प्रेमी बैण्ड ने पूरी ताकत झोंक दी। दोनों के लाजवाब लाइटिग,गीतों पर सब झूम उठे। मेरे मन मे बसे है राम गीत गए तो बिलग्राम में तहजीब के मुताबिक, मुस्लिम समुदाय के गीतकारों ने कोई कोर कसर नही छोड़ी। गीतो से सुनकर लोगों ने ईनाम भी दिए।रामपुर से आये कलाकार भी समा बांधते रहे।
एक नजर मे बारात शाम को सात बजे बारात ने किया। प्रस्थान18 झांकिया,8 रथ,दो बैण्ड हुए शामिल हुए।कमेटी के साथ नगर में गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।

loading...
=>

Related Articles