अन्य खबर

चमत्कार: श्मशान में वापस आई सांसें, घर पर नाग-नागिन को नाचते हुए देखा गया, जाने पूरा सच

यह कहा जाता है कि एक मृत व्यक्ति फिर से जीवित नहीं हो सकता है, लेकिन राजथान (राजस्थान) के भरतपुर में इस वास्तविकता को नकारने का मामला सामने आया है। सांप के काटने के बाद रुदावल शहर की 21 वर्षीय लड़की श्वेता को भरतपुर के आर. बी. यम. अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया था। लेकिन जब उसके अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी, तब उसकी सांसें श्मशान में लौट आईं।

पहले तो इस घटना के बारे में किसी को विश्वास नहीं हुआ, लेकिन जब उसका परिवार श्वेता के साथ लौटा तो घर पर लोगों की भीड़ लग गई। उसी समय एक और अजीब घटना घटी, जब श्वेता को मृत घोषित किए जाने के बाद श्मशान ले जाया गया, एक नाग-नागिन को घर पर नाचते हुए देखा गया। महिलाओं ने श्मशान के परिवार के सदस्यों को भी सूचित किया। इसके बाद जब उन्होंने श्वेता की नब्ज टटोली तो वह जिंदा पाई गई।

परिजन श्वेता की सांसे वापस आने के बाद उसे श्मशान से वापस घर ले आए। यहां देवताओ के गोठियावों (जो कथित रूप से सांप के काटने का इलाज करते हैं) से इलाज करवाया जा रहा है। फिलहाल उसकी हालत में सुधार बताया जा रहा है।सांप के काटने की यह घटना गुरुवार सुबह रुदावल शहर की शीतला कॉलोनी में हुई।

श्वेता को घर पर सांप ने काट लिया। उन्हें तुरंत भरतपुर के सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद उसके श्मशान से लौटने की खबर पूरे कस्बे में आग की तरह फैल गई। इस अजीब घटना के बाद उसके घर पर लोगों की भीड़ लग गई।

 

loading...
=>

Related Articles