बिहारभागलपुर

मेडिकल में एडमिशन कराने के नाम पर 36 लाख की ठगी

हाय प्रोफाइल ठगी का नया मामला आया सामने

रिपोर्ट अतीश दीपंकर

◆एनजीओ संचालक पर ठगी करने का आरोप

◆हाय प्रोफाइल ठगी का नया मामला आया सामने

भागलपुर (तरुणमित्र) | हाय प्रोफाइल ठगी का एक नया मामला सामने आया है

एनजीओ संचालक ने मेडिकल में एडमिशन कराने के नाम पर 36 लाख की ठगी की।

झारखंड साहिबगंज निवासी, डॉ० अलीम उद्दीन अंसारी जो पेशे से डॉक्टर हैं और अभी वे वर्तमान में एक हॉस्पिटल में कार्यरत हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि, हम अपने बेटी को मेडिकल में दाखिला करवाने के लिए डोनेशन के नाम पर कुल 36 लाख रुपये मीनाक्षी मिश्रा को दिए जो फर्जी राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की आड़ में ठगी करने का काम कर रही है।

वहींं मीनाक्षी मिश्रा, पिता मोहनानंद मिश्र सहित माता और भाई अपने पिताजी के घर कमल नगर कॉलोनी में रहती है। कहा जा रहा है कि इसी घर से ठगी का खेल रचा जाता है।

जब डाक्टर दंपत्ति थक हार गए तब डॉक्टर की पत्नी’ शगुफ्ता खानम ने , भागलपुर के उपमहानिरीक्षक विकास वैभव के पास पहुंची और न्याय की गुहार लगाई। उन्होंने सारी बातों को गंभीरता से सुनते हुए बबरगंज थाना प्रभारी को f.i.r. करने का निर्देश दिया। उनके निर्देश पर एफ आई आर दर्ज हो चुकी है।

बताया जा रहा है कि यह एक हाईप्रोफाइल ठगी का मामला है। कहा जा रहा है कि अगर पुलिस प्रशासन सही दिशा में जांच करती है तो बहुत ऐसे एनजीओ चलाने वाले लोग कानून की जद में आ सकते हैं।

loading...
=>

Related Articles