उत्तर प्रदेशहरदोई

कांग्रेसियों ने दलितों के मसीहा को परिनिर्वाण दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए

कांग्रेसियों ने दलितों के मसीहा को परिनिर्वाण दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए

कांग्रेसियों ने दलितों के मसीहा को परिनिर्वाण दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए

हरदोई 06 दिसंबर।भारतरत्न, संविधान रचयिता, बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव राम जी अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर दोपहर अंबेडकर पार्क, निकट पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस के सामने अंबेडकर प्रतिमा पर कांग्रेस पदाधिकारियों ने माला पहनाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।पुष्पांजलि के उपरांत संगोष्ठी का आयोजन किया गया।निवर्तमान जिलाध्यक्ष डॉक्टर राजीव सिंह लोध ने कहा कि बाबा साहब ने शिक्षा को विशेष महत्व दिया।दलितों के उत्थान के उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। नि.प्रदेश सचिव विक्रम पांडे ने कहा कि बाबा साहेब एक विचारधारा थे और विचारधाराएं कभी मरती नहीं है। बाबा साहब ने अपना पूरा जीवन दलित सेवा में लगाया।युवा प्रदेश सचिव देवेंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि बाबासाहेब के विचारों उनके बताए रास्तों पर चलना ही सच्ची श्रद्धांजलि है।पूर्व प्रत्याशी ओमेंद्र वर्मा ने कहा कि दलितों के आरक्षण की वकालत बाबासाहेब ने की।आज दलितों की सामाजिक स्थिति में जो गुणवत्ता पूर्ण सुधार आया है वह बाबा साहेब के कार्यों की ही परणिति है।निवर्तमान मीडिया प्रभारी भुट्टो मियाँ ने कहा कि बाबा साहेब ने दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान बनाया। जिससे पूरे विश्व मे भारत का मान बढ़ा है।अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन प्रेम प्रकाश वर्मा ने कहा कि बाबा साहेब दलितों के मसीहा थे। आज दलित समाज सम्मान से जी रहा है। बाबा साहब का कहना था पढ़ो लिखो शिक्षित बनो क्योंकि शिक्षा पर बाबा साहब का विशेष जोर रहा था ।
महिला नेत्री सुनीता मित्रा ने कहा कि महिलाओं के अधिकारों के लिए बाबासाहेब ने संवैधानिक अधिकार संविधान में प्रदत्त किए हैं। शिक्षित महिला किसी भी परिवार की रोशनी होती है एनएसयूआई के अध्यक्ष अमलेन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि बाबा साहब के विचारों का अनुसरण ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धा और श्रद्धांजलि है ।बाबा साहब ने सदैव समाज के गरीब वर्गो के लिए कार्य किया। हम उन्हें नमन करते हैं ।
मुख्य रूप से वृंदावन बिहारी श्रीवास्तव, शिवापाल, अरुण सिंह, सुनील द्विवेदी, देवेंद्र, पवन गुप्ता ,सेवकराम एवं कार्यकर्ता गण उपस्थित रहे सभी ने बाबा साहेब की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए।

loading...
Loading...

Related Articles