उत्तर प्रदेशलखनऊ

यूपी पुलिस ने मायावती की नसीहत का दिया जवाब, गिनाए एनकाउंटर के आंकड़े

कहा जंगल राज अतीत की बात है, अब नहीं है

हैदराबाद में पुलिस एनकाउंटर का मामला

लखनऊ।  उन्नाव दुष्कर्म मामले  में बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने उत्तर प्रदेश पुलिस को हैदराबाद पुलिस  से प्रेरणा लेने की नसीहत दी है।  इस नसीहत का जवाब देते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने एनकाउंटर के आंकड़े जारी कर दिए। शुक्रवार को यूपी पुलिस ने ट्वीट करते हुए का दावा किया कि दो साल में 103 अपराधियों का एनकाउंटर किया गया। यूपी पुलिस ने अपने ट्विटर पर लिखा, ‘आंकड़े अपने आप बोलते हैं। जंगल राज अतीत की बात है, अब नहीं है। पिछले 2 सालों में 5178 मुठभेड़ की घटनाएं हुई हैं, जिसमें 103 अपराधी मारे गए और 1859 घायल हुए। 17745 अपराधियों ने आत्मसमर्पण किया या जेल जाने के लिए अपनी खुद की बेल रद्द कर दी।  बताते चलें कि मायावती ने हैदराबाद गैंगरेप मामले में चारों आरोपियों के पुलिस एनकाउंटर में मारे जाने पर कहा कि इससे बलात्कारियों के मन में डर पैदा होगा। उन्होंने कहा कि हैदराबाद पुलिस की तरह ही उत्तर प्रदेश पुलिस को भी सख्त कदम उठाने चाहिए तभी बढ़ती रेप की घटनाएं रुक सकेंगी। बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि पुलिस ऐसे आरोपियों (रेपिस्टों) को सरकारी मेहमान बनाकर रखती है, जो बड़े शर्म की बात है। मायावती ने कहा कि इससे पीड़ित परिवार को इंसाफ मिलने में देरी होती है। दरअसल शुक्रवार सुबह हैदराबाद पुलिस द्वारा घटनास्थल पर क्राइम सीन रिक्रिएट करते वक्त चारों आरोपियों ने भागने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस ने पीछा कर इन सभी को मुठभेड़ में मार गिराया।  बता दें कि बीते 27 नवंबर को तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ चार युवकों ने गैंगरेप किया था।  इस हैवानियत के बाद आरोपियों ने पीड़िता की हत्या कर दी थी और अपराध पर पर्दा डालने के लिए उसे ब्रिज के नीचे जला दिया था।

loading...
Loading...

Related Articles