18+

जानें ह्यूमन पेपिलोमा वायरस के बारे में सबकुछ, जिससे आप हैं अन्जान

आज हम आपको बताते हैं कि ह्यूमन पैपिलोमा वायरस क्या है और इससे कैसे बचा जा सकता है. ह्यूमन पेपिलोमा वायरस यानी एचपीवी (Human Papillomavirus Infection, HPV) एक बेहद खतरनाक वायरस है. जो तेजी से फैलता है. सबसे बुरी बात तो यह है कि इस वायरस के शरीर में आने के बाद भी इसके लक्षण पता नहीं चलते. यही वजह है कि यह एक संक्रमित व्यक्ति से दूसरे को फैलता जाता है. आंकडों की मानें तो यौन जीवन (Sex Life)  में तकरीबन 80 फीसदी लोगों को इस संक्रमण का सामना करना पड़ता है. ह्यूमन पेपिलोमा वायरस संक्रमण के उपचार के बारे में लोग जानना चाहते हैं. अक्सर लोग पूछते हैं कि मानव पेपिलोमा वायरस टीका है या नहीं. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं इस वायरस के बारे में सबकुछ. जानते हैं कि  ह्यूमन पेपिलोमा वायरस से कैसे बचा जाए.

कैसे फैलता है ह्यूमन पेपिलोमा वायरस

ह्यूमन पेपिलोमा वायरस यानी एचपीवी (HPV) यौन संबंध (Sex) बनाने के दौरान फैलता है. असुरक्षित यौन (Unsafe Sex)  संबंध ह्यूमन पेपिलोमा वायरस यानी एचपीवी का बड़ा कारण होते हैं.

क्या होते हैं ह्यूमन पेपिलोमा वायरस यानी एचपीवी के लक्षण

वैसे तो ह्यूमन पेपिलोमा वायरस यानी एचपीवी के लक्षण जल्दी समझ नहीं आते. लेकिन फिर कुछ लक्षणों को आप गौर करने पर संभाल लें-

– ह्यूमन पैपिलोमा वायरस यानी एचपीवी में शरीर के अलग-अलग हिस्सों पर मस्से जैसे बन जाते हैं. इन मस्सों को वॉर्ट्स के नाम से भी जाना जाता है.

– एचपीवी के वायरस कैंसर का कारण भी बन सकता है. एचपीवी के कारण  वजाइना, सर्वाइकल कैंसर, पेनिस, एनस और ओरोफेरिन्क्स जैसे कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है.

– ह्यूमन पेपिलोमा में जननांग पर मस्से उभर आते हैं, जिनमें दर्द नहीं होता. लेकिन इसमें खुजली की शिकायत हो सकती है.

ह्यूमन पैपिलोमा वायरस से कैसे करें बचाव

1- एचपीवी संक्रमण के खतरे से बचने के लिए महिलाओं को लगातार टेस्ट करवाते रहना चाहिए.

2- ह्यूमन पैपिलोमा वायरस के संक्रमण से बचने के लिए बचने के लिए एक से अधिक लोगों से सेक्‍स संबंध न बनाएं.

3- युवाओं के लिए एचपीवी वायरस से बचने का टीका उपलब्ध है.

4- पैपिलोमा वायरस का संक्रमण कई बार समय के साथ साथ खत्म हो जाता है. लेकिन अगर इसके चलते यौनांग में गांठें हो जाएं तो डॉक्टर से सलाज जरूर लेनी चाहिए.

किन लोगों को होता है एचपीवी का खतरा

– वे लोग जो एक से ज्यादा लोगों के साथ यौन संबंध बनाते हैं. उन लोगों को एचपीवी होने का खतरा ज्यादा होता है.
– वे लोग जो बहुत ज्यादा शराब का सेवन करते हैं.
– बढ़ती उम्र के पुरुषों को संक्रमण की चपेट में आने का खतरा ज्यादा होता है.
– जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, वे जल्दी संक्रमित हो सकते हैं.

loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com