Main Sliderराष्ट्रीय

देशभर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू

नई दिल्ली। आज (गुरुवार) देशभर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुका है। पटना, दिल्ली, लखनऊ सहित कई शहरों में प्रदर्शनकारियों के सड़कों पर निकलने की खबरें मिलने लगी हैं. दिल्ली में इस नए कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को देखते हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया, जसोला विहार, शाहीन बाग और मुनिरका मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश और निकास बंद कर दिया गया है. इन स्टेशनों पर ट्रेन नहीं रुकेगी।

इन चार स्टेशनों को बंद किए जाने के बाद डीएमआरसी ने लाल किला, जामा मस्जिद, चांदनी चौक और विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन को भी बंद कर दिया है. अगले आदेश तक अब इन स्टेशनों पर भी ट्रेन नहीं रुकेगी. पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, आईटीओ, प्रगति मैदान और खान मार्केट मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिए गए हैं. केंद्रीय सचिवालय स्टेशन पर भी प्रवेश और निकास बंद कर दिया गया है, हालांकि इंटरचेंज स्टेशन होने की वजह से लोग यहां से ट्रेन बदल सकेंगे।

बताते चलें कि गुरुवार को दिल्ली ही नहीं बल्कि देश के 11 बड़े शहरों में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन की शुरूआत हो गई है. दिल्ली पुलिस ने कानून व्यवस्था व ट्रैफिक का हवाला देते हुए राजधानी में किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी है. दिल्ली पुलिस ने लाल किला इलाके में धारा 144 लगा दी है. कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है।

दूसरी ओर लखनऊ और बेंगलुरु में भी स्थानीय प्रशासन ने लोगों को विरोध प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी है. जिन शहरों में गुरुवार को विरोध दर्ज कराया जाएगा, उनमें – मुंबई, चेन्नई, पुणे, हैदराबाद, नागपुर, भुवनेश्वर, कोलकाता और भोपाल प्रमुख हैं. कोलकाता में मुख्यमंत्री ममना बनर्जी नागरिकता कानून के विरोध में पैदल मार्च निकालेंगी।

बेंगलुरू में प्रदर्शन के दौरान इतिहासकार रामचंद्र गुहा सहित 30 को पुलिस ने हिरासत में लिया

बेंगलुरू। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आज (गुरुवार) देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं बेंगलुरु में मशहूर इतिहासकर व लेखक रामचंद्र गुहा को पुलिस ने हिरासत में लिया है. यहां करीब 30 प्रदर्शनकारियों को भी हिरासत में लिया गया है।
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने आज शहर में मार्च निकालने का फैसला किया था. बेंगलुरु पुलिस ने इस प्रदर्शन की मंजूरी नहीं दी थी। जिसके बाद सुबह से ही मुख्य सड़कों पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई थी. रामचंद्र गुहा भी प्रदर्शनकारियों के साथ मार्च में शामिल हुए, जिसके बाद पुलिस ने गुहा सहित 30 लोगों को हिरासत में ले लिया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

loading...
Loading...

Related Articles